Photoshop क्या है? Photoshop को विस्तार से जानिए?

What is Photoshop? Know Photoshop in Detail in Hindi: फोटोशॉप एक फोटो एडिटिंग, इमेज क्रिएशन तथा ग्राफिक्स डिजाईनिंग प्रोग्राम है जिसे एडोबे सिस्टम द्वारा विकसित किया गया है।

जो मल्टीलेयर के साथ रास्टर इमेज एडिटिंग के लिए बनाया गया है। साथ में यह सॉफ्टवेयर वेक्टर ग्राफिक्स, टेक्स्ट एडिटिंग़, 3डी ग्राफिक्स को भी सपोर्ट करता है।

फोटोशॉप का जन्मदाता थॉमस क्नॉल है। जिसने अपनी पी. एच. डी के दौरान इस इमेज एडिटिंग़ प्रोग्राम्स की शुरुआत अपने Macintosh Plus कम्प्युटर पर की थी। दरअसल, थॉमस एक ऐसा प्रोग्राम्स डवलप कर रहे थे जो ग्रेस्केल में इमेज को प्रदर्शित करता। और उन्हे कामयाबी भी मिली। थॉमस ने सन 1987 में अपना पहला प्रोग्राम बना लिया जिसे Display नाम दिया।

What is Photoshop? Know Photoshop in Detail in Hindi
What is Photoshop? Know Photoshop in Detail in Hindi

इस प्रोग्राम के बारे में उनके भाई John Knoll, जो उस समय Industrial Light & Magic में कार्यरत थे, को पता चला। उन्होने इस प्रोग्राम को फुल इमेज एडिटिंग़ प्रोग्राम में विकसित करने की सलाह अपने भाई को दी और इस तरह दोनों भाईयों ने मिलकर फोटोशॉप को तैयार किया।

इस प्रोग्राम का नाम बदलकर उन्होने ImagePro करना चाहा। मगर, यह नाम उपलब्ध नहीं था। इसलिए इसका नाम Photoshop रखा गया। जिसकी शुरुआत में 200 प्रतियाँ बेची गई। इस प्रोग्राम की कामयाबी से प्रभावित होकर Adobe System ने सन 1988 को इसे खरिद लिया और फिर Adobe Photoshop कहलाया। इसके बाद एडोबे फोटोशॉप के बहुत सारे संस्करण बाजार में आ चुके है। और इसे कई नाम भी मिल चुके है।

2003 तक फोटोशॉप के कुल 7 संस्करण डवलप किये जा चुके थे जिसे Photoshop 7. 0 के नाम से भी जानते है। मगर, इसके बाद फोटोशॉप को Creative Suite के साथ Rebrand किया गया और इसका अगला संस्करण Photoshop 8.0 विकसित किया जो Creative Suite के साथ था।

Photoshop Creative Suite का नाम बदलकर Creative Cloud किया गया जो 2013 के बाद सभी संस्करणों के साथ जोड़ा गया। और आज फोटोशॉप को Adobe Photoshop Creative Cloud की ब्रैंडि‌ग के साथ बेचा जा रहा है।

फोटोशॉप किसने बनाया हैं ?

फ़ोटोशॉप 1988 में थॉमस और जॉन नॉल द्वारा बनाया गया था तब से, यह रेस्टर ग्राफिक्स संपादन में वास्तविक उद्योग मानक बन गया है, जैसे कि “फोटोशॉप” शब्द “फ़ोटोशॉप एक छवि,” “फोटोशॉपिंग” और “फ़ोटोशॉप प्रतियोगिता” के रूप में एक क्रिया बन गया है, हालांकि एडोब इस तरह के प्रयोग को हतोत्साहित करता है।

फोटोशॉप का परिचय

Adobe Photoshop एक ऐसा software है जिसे की ज्यादातर इस्तमाल image editing, graphic design और digital art के लिए किया जाता है। ये layering technique का इस्तमाल करता है जो की इसे allow करते हैं design में depth और flexibility प्राप्त करने के लिए और सभी editing processes के लिए भी किया जाता हैं।

बहुत से ऐसे लोग हैं जो कि फोटोग्राफर है किन्‍तु फोटोशाप (Photoshop Software) की जानकारी के अभाव में अपने व्‍यवसाय को जमाने के हिसाब से Devolve नहीं कर पाये हैं। कई लोग डिजाईनिंग के क्षेत्र में रूचि रखते हैं किन्‍तु वे समय व पैसे की कमी, उचित मार्गदर्शक के अभाव में सीख नहीं पाये हैं।

उनके मन में हमेंशा उत्‍सकुता बनी रहती है कि काश वे सीख पाते और अपना एक अच्‍छा सा कैरियर बना पाते। मैंने इस अपने इस ब्‍लाग के माध्‍यम से उन लोगों को सीखाने का एक छोटा से प्रयास किया है। ये लोग इस साफटवेअर को सीखकर फोटोग्राफी के क्षेत्र में अच्‍छी आमदनी प्राप्‍त कर सकते हैं  एवं अपने व्‍यवसाय को सफलता के शिखर तक पहुंचा सकते हैं।

Adobe Photoshop बहुत ही उपयोग किये जाने वाला Image Editing एवं Graphics Designing Software है। इस साफ्टवेअर से ग्राफिक्‍स डिजाईनिंग कार्य किया जाता है साथ ही फोटो एडिटिंग में भी सबसे ज्‍यादा उपयोग किया जाता है।

Photoshop के माध्‍यम से हम अपने फोटो को बहुत आकर्षक ढंग से एडिटिंग कर सकते हैं। हमारे फोटो में जो भी प्राब्‍लम है उसे हम ठीक कर सकते हैं। पुराने डेमेज, स्‍क्रेच, कटे-फटे फोटो को रिपेयर कर सकते हैं। फोटो में चेहरे पर दाग, झुर्रियां, पिम्‍पलस आदि हो तो फोटोशाप से उसे दूर कर फोटो को बहुत आकर्षक बनाया जा सकता है।

चेहरे के स्‍कीन कलर को विभिन्‍न स्‍कीन कलर टोनों में चेंज किया जा सकता है। शादियॉं, जन्‍मदिन, विभिन्‍न त्यौहार के Photo Album तैयार करने में भी फोटोशाप का प्रयोग किया जाता है। फोटोशाप का प्रयोग ग्राफिक्‍स डिजाईनिंग में भी बहुत बडा योगदान रहा है।

फोटोशाप द्वारा  आकर्षक ग्रिटिंग, पाम्‍पलेट, पोस्‍टर फलेक्‍स डिजाईनिंग कर सकते हैं। फोटोशाप में किसी इमेंज की कांट-छांट, फोटो की बैकग्राउंड चेंज, विभिन्‍न कलर का प्रयोग,‍ विभिन्‍न प्रकार फोन्‍ट का प्रयोग तथा इनमें स्‍पेशल इफेक्‍ट डाल सकते हैं।

इस साफ्टवेअर में विभिन्‍न प्रकार की प्‍लग इन साफटवेअर का प्रयोग कर सकते हैं, जिससे फोटोशाप की कार्य करने की क्षमता को कई गुना बढाया जा सकता है। इसमें विभिन्‍न प्रकार की Symbol Insert  कर सकते हैं। जिससे विभिन्‍न प्रकार के ले-आउट तैयार किया जा सकता है।

फोटोशाप बहुत से प्रकार के Image File Format को सपोर्ट करता है, जिससे इनकी कार्य करने की क्षमता कई गुना बढ जाती है। इनमें से कुछ पापुलर इमेंज फार्मेंट है जैसे :-

PSD (Photoshop Format), JPG (Joint Photographic Expert Group), EPS, BMP (Bitmap), GIF (Graphic Interchange Format), TIFF(Tagged Image File Format), TGA (True Vision Targa) इन सभी Image format वाले फोटो को हम फोटोशाप में एडिटिंग कर सकते है तथा इन सभी प्रकार के Image File Format में Export किया जा सकता है, जिससे ग्राफिक्‍स डिजाईनिंग का कार्य बहुत सरल बन जाता है।

Photoshop से बहुत ही बढिया पेंटिंग बनाया जा सकता है। पहले से हाथ से बनाये पेंटिंग एवं रेखाचित्र को स्केन कर, उसे फोटोशाप में ले जाकर उसमें Color Fill किया जा सकता है। पेंटिंग एवं रेखाचित्र में हुए त्रुटि को सुधार कर उसे और आकर्षक बनाया जा सकता है।

कार्टूनिस्‍ट पेंसिल से बनाए गए कार्टून को फोटोशाप में ले जाकर उसमें कलर फिल कर सकता है। उसमें आवश्‍यकतानुसार कांट-छांट कर सकता है। उसमें बैकग्राउंड डाल सकता है। उसमें संवाद डाल सकता है।

फोटोशॉप का निर्माण

अडोबी सिस्टम्स नामक कम्पनी द्वारा विकसित एक प्रसिद्ध एवं लोकप्रिय ग्राफिक्स प्रोग्राम है। यह बिटमैप इमेजों को उन्नत रूप से सम्पादित करने की सुविधा प्रदान करता है। एडोब फोटोशॉप एक रेखापुंज ग्राफिक्स संपादक है जिसे मैक ओएस और विंडोज के लिए एडोब सिस्टम द्वारा विकसित और प्रकाशित किया गया है।

फोटोशॉप क्या है?

फोटोशॉप एक फोटो एडिटिंग, इमेज क्रिएशन तथा ग्राफिक्स डिजाईनिंग प्रोग्राम है जिसे एडोबे सिस्टम द्वारा विकसित किया गया है। जो मल्टीलेयर के साथ Raster Image Editing के लिए बनाया गया है। साथ में यह सॉफ्टवेयर वेक्टर ग्राफिक्स, टेक्स्ट एडिटिंग़, 3डी ग्राफिक्स को भी सपोर्ट करता है।

फोटोशॉप के द्वारा फोटो एडिटिंग का कम कीमत में बड़ी आसानी से और पेशेवर ढ़ंग से करना संभव हो पाता है। क्योंकि यह मल्टीलेयर के साथ, Masks, Alpha Compositing, Color Models (RGB, CMYK, CIELAB, Spot Color, Duotone शामिल है) की सुविधा उपलब्ध करवाता है।

इन फोटोशॉप फीचर्स के अलावा इसकी कार्यक्षमता को फोटोशॉप प्लग-इन्स के जरिए बढ़ाया जा सकता हैं और Additional Functions तथा Tools भी एड किये जा सकते है। फोटोशॉप फोटो इंडस्ट्री का सबसे श्रेष्ठ प्रोग्राम बना हुआ है। इसकी लोकप्रियता को देखते हुए अंग्रेजी में लोग Photoshop का उपयोग क्रिया के रूप में भी करते है। इसलिए फोटोशॉप का मतलब Edited, Photoshopped, Manipulated, Fake भी होता है।

फोटोशॉप के वर्जन:-

  1. Photoshop CC 2019 (October 2018)
  2. Photoshop CC 2018 (November 2017)
  3. Photoshop CC 2017 (November 2016)
  4. Photoshop CC 2015. 5 (June 2016)
  5. Photoshop CC 2015 (June 2015)
  6. Photoshop CC 2014 (June 2014)
  7. Photoshop CC (June 17, 2013)
  8. Photoshop CS6 (May 7, 2012)

फोटोशॉप वर्कएरिया के फॉर्मेटिंग फ़ीचर्स

फोटोशॉप वर्कएरिया के फॉर्मेटिंग फ़ीचर्स

फोटोशॉप को पहली बार ऑपन करने पर हमारे सामने जो स्क्रीन खुलती है उसे ही फोटोशॉप वर्कएरिया कहते है (ऊपर स्क्रीनशॉट देखिए)। यहीं पर इमेज एडिटिंग, ग्राफिक्स डिजाईनिंग तथा फोटो से संबंधित अन्य कार्य किये जाते है। युजर की सुविधा को ध्यान में रखते हुए इसे कई भागों में बांटा गया है। जिसके बारे में हम नीचे बता रहे है-

Title Bar:- सबसे ऊपरी बार टाईटल बार कहलाती है। आपने यह बार अन्य प्रोग्राम्स में भी देखी होगी। इसमें फोटोशॉप का नाम तथा तीन महत्वपूर्ण बटन जुड़े रहते है।

Menu Bar:- टाईटल बार के नीचे स्थित इस बार में विभिन्न कमांड्स को समेटे हुए अलग-अलग प्रकार की मेनु होती है। जिनके द्वारा फोटोशॉप में मौजूद फंक्शंस को एक्टिव किया जाता है और उनका उपयोग करन संभव हो पाता है।

Tool Option Bar:- जब किसी फोटोशॉप टूल को एक्टिव किया जाता है तो यह बार सक्रिय हो जाती है और संबंधित टूल के लिए अतिरिक्त विकल्प डिस्प्ले करती है। यह बार मेनु बार के नीचे बाएं तरफ मौजूद होती है।

Pallettes Bar:- यह बार टूल ऑप्शन बार के दाएं तरफ मौजुद होती है। जहाँ पर विभिन्न Pallettes को जोड़ा जाता है। और यहीं से इनका उपयोग भी किया जाता है। ऐसा करने पर समय की बहुत बचत होती है। जैसे; आप फाईल मैनेजर को सीधे यहीं से एक्सेस कर पाते है। जिससे आपको बार-बार फाईल मेनु में जाने की कोई जरूरत नहीं रहती।

Pallettes:- किसी इमेज, ग्राफिक्स अथवा टेक्स्ट के बारे में अतिरिक्त सूचनाएं और फंक्शनेलिटी को विभिन्न छोटी-छोटी विंडॉज के रूप में दाएं तरफ डिस्प्ले किया जाता है। इन्हे ही Pallettes कहा जाता है। युजर इन्हे सुविधा के अनुसार हटा भी सकता है और जगह भी बदल सकता है।

Tool Box:- फोटोशॉप टूल्स विभिन्न प्रकार के फंक्शन होते है जो एक खड़ी पट्टीका में जमे रहते है। इस पट्टी को ही टूल बॉक्स कहते है। यह आमतौर पर बाएं तरफ स्थित होती है। मगर इसे भी युजर अपनी सुविधा अनुसार कहीं भी उठाकर रख सकता है।

Minimize:- इस बटन के द्वारा फोटोशॉप विंडॉ को टास्कबार पर मिनिमाईज किया जाता है। इस दौरान प्रोग्राम डेस्कटॉप से हटकर टास्कबार पर एक छोटे से आइकन के रुप में जुड जाता है। जिसके ऊपर एक क्लिक करके दुबारा वहीं से चालु किया जा सकता है।

Maximize:- यह बटन दो रुप में प्रदर्शित होता है। जब प्रोग्राम विंडॉ छोटी होती है तो यह Maximize के ऊप में प्रदर्शित होता है और विंडॉ पूरी खुली होने पर Restore Down के रूप में दिखाई देता है। इस बटन के द्वारा हम फोटोशॉप विंडॉ को छोटा-बड़ा कर सकते है।

Close:- फोटोशॉप को बंद करने के काम आता है।

फोटोशॉप कैसे सीखे?

इस सवाल का जवाब आपके ऊपर ही निर्भर करता है। आप निवास स्थल, उम्र, शिक्षा आदि के अनुसार उपलब्ध विकल्पों में से अपने लिए उपयुक्त का चुनाव करके फोटोशॉप सीख सकते है। हम आपको कुछ तरीके बता रहे है जिन्से आप घर बैठे फोटोशॉप सीख सकते है:-

Learn from our website:- इस वेबसाइट में आपको फोटोशॉप से जुड़े हर छोटी-छोटी सी जानकारियां मिलेगी जिससे आप फोटोशॉप को आसानी से सीख सकते हैं। हर जानकरी हिंदी में और सरल भाषा में दिया गया हैं। सिर्फ़ फोटोशॉप ही नहीं बल्कि कंप्यूटर के सभी सॉफ्टवेयर को हमारे website में सीख़ सकते हैं।

Take admission in computer institute:- यदि आपके नजदीक कोई कम्प्युटर इन्स्टिट्यूट मौजूद है जो फोटोशॉप के साथ फोटोग्राफी भी सिखाता है। तो आप यहाँ एडमिशन लेकर फोटोशॉप की ट्रैनिंग ले सकते है।

Buy online course:- यदि आपके पास पर्याप्त समय नहीं है। यानि किसी और कारण से आप इंस्टिट्यूट जॉइन नहीं कर सकते है। तो आप ऑनलाईन कोर्स के माध्यम से फोटोशॉप घर बैठकर ही सीख सकते है। इसका फायदा यह है कि आप जब चाहे तब सीख सकते है। आपको निश्चित टाईम टेबल फॉलो करने की भी कोई जरूरत नहीं रहेगी।

Buy books:- आप फोटोशॉप की किताबें खरिदकर फोटोशॉप सीख सकते है। किताबों के जरिए आप एक-एक फोटोशॉप स्किल को स्टेप बाए स्टेप तरीके से सीख पाते है और आप एक टास्क को सीखने मे फुल समय लगा सकते है। आपके ऊपर समय की कोई पांबंदी भी नही होगी। फोटोशॉप से संबंधित किताबे आप ऑनलाईन खरिद सकते है।

Learn from youtube:- यदि आप फ्री में फोटोशॉप सीखने के बारे में सोच रहे है तो यूट्यूब आपके लिए उपयुक्त साधन रहेगा। यहाँ पर आपको हजारों विडियों फोटोशॉप से संबंधित मिल जाएंग़े। लेकिन, युट्यूब ज्ञान को कम विश्वसनीय माना जाता है और समुचित गाईडलाईंस भी नही मिल पाती है। सबसे बड़ा नुकसान आपके समय होता है क्योंकि बढ़िया विड़ियों ढूँढ़ने में आपका कीमती समय बेकार चला जाता है। फिर भी आप एक बार इसे ट्राई जरूर करें।

Learn from photoshop experts:- आप अपने लिए किसी जान-पहचान वाले फोटोशॉप एक्सपर्ट से ट्रैनिंग ले सकते है। यह फोटोशॉप ट्रैनिंग सिर्फ आपको दी जाएगी। इसलिए ज्यादा जल्दी आप फोटोशॉप में पारंगत हो जाते है। मगर, यह ट्रैनिंग जेब पर भारी पड़ सकती है।

Self learning:- अपने कम्प्युटर या लैपटॉप में फोटोशॉप इंस्टॉल करिए और चलाना शुरू कर दीजिए। आप फोटोशॉप हेल्प तथा कम्युनिटी से मदद लेकर सेल्फ लर्निंग के माध्यम से फोटोशॉप सीख सकते है।

फोटोशॉप की विशेषतायें

  1. डिजिटल इमेजिंग की दुनिया में फोटोशॉप सबसे मशहूर तथा उपयोगी सॉफ्टवेयर है ।
  2. डिजिटल इमेजिंग पर काम करने वाला हर व्यक्ति फोटोशॉप सॉफ्टवेयर जरूर उपयोग में लेता है तथा आज दुनिया में कोई अन्य सॉफ्टवेयर इसके प्रतिद्वंदी के रूप में उभर कर नहीं आ पाया है ।
  3. इसके कई कारण है जिनमे से सबसे ऊपर है फोटोशॉप का बहुत ही आसान यूजर इंटरफ़ेस, अनेक प्लग-इन तथा सभी तरह के इमेज प्रोसेस करने की क्षमता, ये सब इसे बाकि सॉफ्टवेयर से अलग बनाते है ।
  4. फोटशोप आपको काम करने की आजादी देता है ।
  5. इसके शार्ट कट कमांड्स आपको गति प्रदान करते है तथा इसके सैकड़ों टूल्स आपके काम को पेशेवर स्पर्श प्रदान करते है ।
  6. फोटोशॉप को कंप्यूटर में चलाने के लिए कुछ सिस्टम रिक्वायरमेंट्स होते है यानि फोटोशॉप को ठीक से चलाने के लिए आपके कंप्यूटर में कम से कम इन हार्डवेयर का होना आवशयक है ।
  7. फोटोशॉप विंडोज xp, vista, 7, 10, Apple मैकबुक तथा linux पर अच्छे से काम करता है ।
  8. फोटशोप के लिए कम से कम 1 GB रैेम होनी चाहिए वर्ना कंप्यूटर हैंग करता है और आप सही से काम नहीं कर पाएंगे ।
  9. अगर आप फोटोशॉप पर प्रोफेशनल काम करना चाहते है तो आपके कंप्यूटर में 256 या 512 MB का ग्राफ़िक कार्ड अवश्य लगा होना चाहिए अन्यथा आप सही से तथा स्पीड के साथ काम नहीं कर पायेंगे ।
  10. फोटोशॉप में बनी फाइलों को आसानी से वेब पेज में डाला जा सकता हैं।
  11. फोटोशॉप के कार्य को आनडु ऑप्शन के द्वारा हटाया जा सकता हैं।
  12.  फोटोशॉप में इमेज पर आसानी से कार्य के लिए लेयर का उपयोग किया जाता है लेयर के माध्यम से हम इमेज को अलग-अलग हिस्सों में बाँट कर उस पर कार्य कर सकते हैं।
  13. फोटोशॉप में वांछित रंगों को सुधारने या बदलने का कार्य फोटोशॉप में बहुत तेजी से एवं आसानी से किया जा सकता हैं।
  14. इसमें हिस्ट्री पैलेट की सुविधा दी गई है जिसमे पुरानी कार्य की सूचि दिखाई जाती है इस पैलेट के उपयोग से फोटो या इमेज को पूरानी स्थिति में ला सकता हैं।
  15. फोटोशॉप के द्वारा बनाई गई इमेज को अलग-अलग इमेज एक्सटेंशन में सेव किया जा सकता हैं जैसे-Bitmap, GIF, JPG, PNG, PDF आदि।

फोटोशॉप का उपयोग

Organized facilities:- Adobe Photoshop का उपयोग करके फ़ोटो और वीडियो आसानी से और तेज़ी से सॉफ़्टवेयर में आयात किए जा सकते हैं। आयातित फ़ाइलें बड़े करीने से स्क्रीन पर व्यवस्थित होती हैं और इस प्रकार इन्हें आसानी से संभाला जा सकता है। कार्य क्षेत्र के उचित संगठन के साथ संपादन उपकरण और अन्य सुविधाएँ आसानी से मिल सकती हैं।

Quick and timing:- अधिकांश नियमित संपादन जैसे दांतों का सफेद होना, स्किन टोन का समायोजन, और लाल आँख को हटाना एक क्लिक से पूरा किया जा सकता है। फ़ोटोशॉप का उपयोग करने वाला एक पेशेवर आपके कार्य को मिनटों के भीतर पूरा कर सकता है, इस प्रकार यह विज्ञापन, विपणन और वेब डिजाइनिंग जैसे कई उद्योगों में एक पसंदीदा उपकरण बना सकता है।

Various photo editing options:- व्यावसायिक फ़ोटोशॉप सेवाएँ छवि को वैसे भी बना सकती हैं जैसा आप चाहते हैं। आपको बस इतना करना है कि सही उपकरण(tool) को सही तरीके से लागू करना है। फ़ोटोशॉप में एन्हांस करने, क्रॉप करने और ब्लर करने जैसे सैकड़ों विकल्प हैं, जिनका उपयोग चित्र में मुख्य तत्व पर बेहतर फ़ोकस के लिए किया जा सकता है।

Advanced editing:- एक औसत व्यक्ति की एक तस्वीर पेशेवर फ़ोटोशॉप सेवाओं की मदद से एक मॉडल या ज़ोंबी में बदल सकती है। कई पेशेवर फोटोग्राफर दोषों को कम करने और अपने चित्रों की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए फ़ोटोशॉप तस्वीर संपादन का उपयोग करते हैं।

Added features:- फ़ोटोशॉप आकार बदलने, रंग सुधार, एचडीआर इमेजिंग और कई और अधिक सुविधाओं के साथ उच्च गुणवत्ता वाले परिणाम प्रदान करता है। पेशेवर फोटो संपादन में सैकड़ों टूल के अलावा, फोटोशॉप 3डी इमेज क्रिएटर, वीडियो एडिटर और ग्राफिक डिजाइनिंग सॉफ्टवेयर के रूप में भी विकसित हुआ है।

Easy to move:- Adobe Photoshop में बनाई गई फ़ाइलों को क्रिएटिव सूट के माध्यम से विभिन्न कार्यक्रमों के बीच आसानी से स्थानांतरित किया जा सकता है। एडोब इलस्ट्रेटर में बनाया गया एक ग्राफिक फोटोशॉप में फोटो में जोड़ा जा सकता है, या एडोब प्रीमियर में बनाया गया वीडियो आसानी से इसमें जोड़ा जा सकता है। इसके अलावा, फोटोशॉप में बिना किसी गुणवत्ता को खोए पोस्ट प्रोसेसिंग की जा सकती है।

फोटोशॉप के लाभ

जैसा की हमने पहले ही जाना है की फोटोशॉप एक बहुत ही पावरफुल इमेज editing tool है जो बहुत तरह के effects को आसानी से apply करता है और result भी consistently देता है।

बहुत सारे लोग अपनी इमेज की क्वालिटी को बढ़ने के लिए इसका इस्तेमाल करते है क्यों की जितने feature इस सॉफ्टवेयर में है उतना किसी भी इमेज एडिटिंग एप्लीकेशन में नहीं मिलता। नीचे मैं आपको इसके advantages के बारे में बता रहा हूँ-

  1. इस सॉफ्टवेयर में फोटो और वीडियोस बहुत ही आसानी से import हो जाते हैं। इम्पॉर्टकिये गए इमेजेज सफाई के साथ organized होते हैं जिस पर काम करना आसान हो जाता है। इसमें हमे editing tools और दूसरे features भी आसानी से मिल जाते हैं साथ ही इसमें workarea भी उचित ढंग से organized है।
  2. बहुत सारे सामान्य editing जैसे Teeth whitening, skin tone adjusting, और red eye removal बस एक simple click करने से ये काम पुरे हो जाते हैं। कोई फोटोशॉप में  वाला प्रोफेशनल आदमी minutes भर में काम पूरा कर लेता है। यही वजह है की ये कई जगह जैसे advertising, marketing और web designing favourite tool है।
  3. Professional Photoshop service से इमेज को जैसा चाहे वैसा बना सकते हैं। बस जरुरत ये है की आप सही तरीके से सही tool का इस्तेमाल करें। सैकड़ों फाइटर्स हैं जिससे फोटोशॉप में इमेज की कॉलिटी को बढ़ा सकते हैं जैसे enhancing,cropping और blurring।
  4. किसी भी आम आदमी के फोटो को हम चाहे तो उसे बदल के Model या फिर zombie बना सकते हैं।
  5. इसमें image editing करने के बहुत सरे formats में save करने का भी ऑप्शन देता है जिससे हम अपने जरुरत के अनुसार format में बना  सकते हैं।
  6. फोटो एडिटिंग के साथ ही save किये जाने वाले इमेज के size को भी अपनी मर्ज़ी से हम adjust कर सकते हैं।
  7. Photoshop में अगर आप थोड़ी सी knowledge रखते हैं तो आप इसका इस्तेमाल करना शुरू कर सकते हैं बाकी साडी बातें आपकी creativity पर निर्भर करती है की आप किसी इमेज की कितनी imagination कर सकते हैं वो सारा काम आप photoshop में पूरा कर सकते हैं।
  8. अगर आप इसका इस्तेमाल हर रोज़ फोटो एडिटिंग करने के लिए करते हैं तो आप कुछ ही दिनों में इसमें skilled हो जायेंगे।

Photoshop की कमियां

  1. Beginners के लिए इसका interface थोड़ा bulky होता है दिखने में शुरू में समझ नहीं आता की आखिर इतने सारे tools क्या क्या है और किस काम आते हैं।
  2. कुछ tools में इसमें progress bar नहीं होता जिससे उस tool के complete होने का पता नहीं चलता है।
  3. काम करते करते लोग किसी एक version में expert हो जाते हैं लेकिन जब कोई नया version आ जाता है तो उन्हें काम करने में परेशानी का सामना करना पड़ता है।
  4. फोटोशॉप की सबसे बड़ी disadvantage ये है की ये काफी महंगा सॉफ्टवेयर है।

फोटोशॉप से पैसे कैसे कमायें?

इस सवाल का जवाब देने से पहले आप एक सवाल का जवाब दीजिए। क्या आपने किसी फंक्शन में फोटोग्राफी करवाई है? यदि आपका जवाब हाँ तो आप अपने फोटोग्राफी बजट से अंदाजा लगा सकते है कि फोटोशॉप से कितना पैसा कमाया जा सकता है।

क्योंकि फोटोग्राफर अपना काम फोटोशॉप से ही करते है। ,तो यदि आप भी फोटोशॉप से पैसे कमाने के बारे में सोच रहे है तो हम यहाँ फोटोशॉप से संबंधित बिजनेस के बारे में जानकारी दे रहे है। जिन्से आप अच्छा खासा पैसा कमा सकते है-

Do photography:- यदि आपको फोटू खींचने का शौक है तो आप फोटोग्राफी का बिजनेस शुरु सकते है। क्योंकि आजकल हर कोई अपने छोटे से छोटे इवेंट्स को यादगार बनाना चाहता है और उसकी यादें सुरक्षित रखना चाहता है।

ये सारा काम फोटोग्राफी से ही संभव हो पाता है। इसलिए आप फोटोग्राफी में करियर बना सकते है। क्योंकि यह स्किल फोटोशॉप पर निर्भर रहती है। इसलिए यहाँ इसके बारे में बताना जरूरी है।

Do photo editing job:- आप फोटोशॉप सीखकर दूसरों के लिए फोटो एडिटिंग़ कर सकते है। आपको ऑनलाइन तथा ऑफलाइन बहुत सारे जॉब्स मिल जाऐंग़े।

आप अपने नजदीकि फोटो स्टुडियों में जाकर जॉब ऑपनिंग के बारे में जानकारी जुटा सकते है और जगह खाली होने पर आवेदन कर सकते है।

Do freelancing:- यदि आपको ग्राफिक्स तथा वेक्टर बनाने की कला फोटोशॉप में आती है तो आप ऑनलाईन इस कला को बेचकर पैसा कमा सकते है। बस आपको फ्रीलांसिंग़ मार्केटप्लेस वेबसाईट्स पर अपनी फ्री प्रोफाईल बनाकर अपनी मौजूदगी दर्ज करानी होगी। इसके बाद उपलब्ध काम के लिए बोली लगाकर क्लाईंट्स से संपर्क बना सकते है।

Sell ​​your design:- आप खुद की वेबसाईट बनाकर अपने डिजाईन्स, बैकग्राउंड्स, ग्राफिक्स को ऑनलाईन बेचकर भी पैसा कमा सकते है। इसके लिए आपको बस एक वेबसाईट बनाकर अपने प्रोडक्ट्स दिखाने पड़ेगे तथा ऑनलाईन पेमेंट सिस्टम एड करना पड़ेगा।

यदि यह काम संभव नहीं है तो दूसरे ऑनलाईन मार्केटप्लेस पर अपने डिजाईन्स बेचे जा सकते है। अमेजन, फ्लिपकार्ट, ईबे से शुरुआत कर सकते है।

Give photoshop training:- आप दूसरों को फोटोशॉप सिखाकर भी पैसा कमा सकते है। इसके लिए आप चाहे तो ऑफलाईन ट्रैनिंग स्कुल खोलकर लोगों को फोटोग्राफी तथा फोटोशॉप सिखा सकते है। या फिर आप ऑनलाईन भी विडियो कोर्स के जरिए ट्रैनिंग दे सकते है।

Write a book on photoshop:- यदि आप एक पेशेवर फोटोग्राफर है और आपकी बाजार में मांग़ है। तब आप फोटोग्राफी तथा फोटोशॉप के ऊपर किताब लिखकर भी पैसा कमा सकते है। और पैसा कमाने के साथ नाम भी बना सकते है।

Provide graphic design service:- आप फोटो के अलावा विजिटिंग़ कार्ड, बुक कवर, फ्लायर आदि की डिजाईनिंग़ का बिजनेस भी कर सकते है और किसी प्रिटिंग़ प्रेस से संपर्क करके छपवा सकते है। या फिर आप यहीं पर जॉब भी कर सकते है।

Leave a Comment