Python क्या हैं? Python के बारें में विस्तार से जानिए?

0
(0)

What is Python? Know Python in Details in Hindi?


 PYTHON

PYTHON

पाइथन एक सामान्य कार्यों के लिए उपयुक्त, उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषा (General Purpose and High Level Programming language), इन्टरैक्टिव, ऑब्जेक्ट ओरिएन्टेड, स्क्रिप्टिंग भाषा है। इस भाषा को इस तरह से डिजाइन किया गया है ताकि इसमें लिखे गए कोड आसानी से पढ़े और समझे जा सकें।

हिस्ट्री ऑफ़ Python 

जब हम पायथन के इतिहास के बारे में बात करते हैं, तो हम ABC प्रोग्रामिंग भाषा को याद जरुर करते हैं क्योंकि यह ABC प्रभाव था जिसने पायथन नामक प्रोग्रामिंग भाषा के डिजाइन और विकास का नेतृत्व किया।
1980 के दशक की शुरुआत में, वैन रोसुम CWC (Centrum voor Wiskunde en Informatica) में ABC नामक प्रोग्रामिंग भाषा के कार्यान्वयनकर्ता के रूप में काम करता था। बाद में 1980 के दशक के अंत में CWI में, AMOEBA नामक एक नई डिस्ट्रिब्यूटेड ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करते हुए, वैन रोसुम ने ABC जैसे सिंटैक्स के साथ एक स्क्रिप्टिंग भाषा की तलाश शुरू की, और फिर वान रोसुम ने खुद एक नई सरल स्क्रिप्टिंग भाषा को डिजाइन करना शुरू किया जो ABC की खामियों को दूर कर सकती थी।
वैन रोसुम ने 1980 के दशक में नई स्क्रिप्ट विकसित करना शुरू किया और आखिरकार 1991 में उस प्रोग्रामिंग भाषा का पहला संस्करण पेश किया। इस प्रारंभिक रिलीज़ में Module-3 की मॉड्यूल प्रणाली है। बाद में, इस प्रोग्रामिंग भाषा को ‘Python’ नाम दिया गया।
अक्सर लोग यह मानते हैं कि पायथन का नाम सांप के नाम पर लिखा गया था। यहां तक ​​कि पायथन प्रोग्रामिंग भाषा के लोगो में दो सांप, नीले और पीले रंग की तस्वीर को दर्शाया गया है। लेकिन, नामकरण के पीछे की कहानी कुछ अलग है।
1970 के दशक में, एक लोकप्रिय BBC कॉमेडी टीवी शो था जिसका नाम Monty Python’s Fly Circus था वैन रोसुम उस शो के बड़े प्रशंसक थे। इसलिए जब पायथन को विकसित किया गया, तो रोसुम ने इस प्रोजेक्ट का नाम ‘Python’ रखा।
पायथन का पहला संस्करण (यानी पायथन 1.0) 1991 में पेश किया गया था। इसकी स्थापना और संस्करण 1 की शुरूआत के बाद से, पायथन का विकास संस्करण 3.x (2017 तक) तक पहुंच गया है।

Python का परिचय 

Python Programming language को 1980 के दशक में Guido Van Rossum द्वारा बनाया गया था। इसकी शुरुआत National Institute For Mathematics And Computer Science Netherlands में हुई थी। Python language का अविष्कार ABC Programming Language से प्रेणा लेकर हुआ था। क्योंकि यह Exception Handling और Amoeba Operation System के साथ Interface करने में सक्षम थी।
पाइथन के नाम को लेकर कई लोग सवाल करते है, कि एक सांप के नाम का Programming language से क्या ताल्लुक. दरअसल पाइथन के नाम की उत्पत्ति एक Comedy show के नाम से हुई। 1970 के दशक में BBC Comedy Series द्वारा Monty Python’s Flying Circus नामक एक Script प्रकाशित हुई। इससे प्रभावित होकर Van Rossum ने Python को नाम दिया।
पाइथन एक सामान्य कार्यों के लिए उपयुक्त, उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषा (General Purpose and High Level Programming language), इन्टरैक्टिव, ऑब्जेक्ट ओरिएन्टेड, स्क्रिप्टिंग भाषा है। इस भाषा को इस तरह से डिजाइन किया गया है ताकि इसमें लिखे गए कोड आसानी से पढ़े और समझे जा सकें।
पाइथन C, C++ की तरह ही एक प्रोग्रामिंग भाषा है। और यह भाषा इन सबसे ज्यादा आसान है। यह एक ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड और हाई लेवल प्रोग्रामिंग भाषा है। इसकी मदद से आप गेम, वेबसाइट और किसी तरह का सर्च इंजन भी बना सकते है। 
इसमें डायनामिक टाइप सिस्टम तथा आटोमेटिक मैमोरी मैनेजमेंट की सुविधा उपलब्ध रहती है। इस भाषा को इस तरह से डिज़ाइन किया गया है की इसमें लिखे जाने वाले कोड को आसानी से पढ़ा जा सकता है, और समझा जा सकता है। 
कंपनी अपने सॉफ्टवेयर को विकसित करने के लिए पाइथन भाषा का प्रयोग करती है। यह भाषा सर्वर साइड प्रोग्रामिंग के लिए, ई-कॉमर्स सिस्टम द्वारा प्रदान की जाने वाली वेब सर्विस, कठिन वेब अनुप्रयोगों के लिए उपयोग की जाती है।
यह एक बहुत ही बेहतर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है। इसके माध्यम से तेज गति से एप्लीकेशन का निर्माण किया जा सकता है। यह भाषा डायनामिक टाइप बाईंडिंग का ऑप्शन देती है। अधिकतर बड़ी कंपनियों में इसका प्रयोग किया जाता है। जैसे – Quora, Youtube, Instagram, Google आदि। 

Python क्या हैं?

पायथन Perl के समान एक Interpreted, Object-Oriented-Programming language है, पायथन भाषा की स्पष्ट Syntax और Readability के कारण यह आज दुनिया की सबसे Popular Programming language बन चुकी है। पायथन को सीखना आसान है, इसी के साथ साथ पायथन पोर्टेबल भी हैं जिसका अर्थ है कि इसका प्रयोग कई ऑपरेटिंग सिस्टमों में किया जा सकता है, जिसमें UNIX- आधारित सिस्टम, मैक ओएस, एमएस-डॉस, ओएस / 2 और माइक्रोसॉफ्ट विंडोज 98 के विभिन्न संस्करण शामिल हैं।
पायथन को General-Purpose-Programming भाषा भी कहा जाता है पायथन को नीदरलैंड के पूर्व निवासी Guido Van Rossum द्वारा पहली बार 1991 में बनाया गया था। पायथन वर्तमान में अपने तीसरे वर्जन में  है, जो 2008 में जारी किया गया था, हालांकि मूल रूप से 2000 में जारी किया गया दूसरा वर्जन अभी भी सामान्य उपयोग में है।
पायथन का उपयोग विभिन्न प्रकार की एप्लीकेशन के लिए किया जा सकता है। इस भाषा को पढने और समझने में आसान बनाने के लिए डिज़ाइन किया गया हैं ताकि कोई भी व्यक्ति इस भाषा को आसानी से सीख सके। पायथन का सोर्स कोड स्वतंत्र रूप से उपलब्ध है जिसे पुनः उपयोग और उसमे सुधार किया जा सकता हैं।
पायथन एक Interpreted language है, जिसका अर्थ है कि पायथन में लिखे गए प्रोग्राम्स को चलाने के लिए पहले से Compiled करने की आवश्यकता नहीं होती है, पाइथन भाषा Modules और Packages के उपयोग का समर्थन करती है। आसान शब्दों में समझे तो Python Program को एक Modular Style में Design कर सकते है और इसके code को कई प्रकार के दूसरे प्रोजेक्ट में पुनः उपयोग किया जा सकता है।
पायथन डायनेमिक डेटा टाइप्स, रेडी-मेड क्लास और कई सिस्टम कॉल और लाइब्रेरी के लिए इंटरफेस प्रदान करता है। इसे C या C ++ भाषा का उपयोग करके बढ़ाया जा सकता है। पायथन को माइक्रोसॉफ्ट के Active Server Page (ASP) तकनीक में स्क्रिप्ट के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। Melbourne (ऑस्ट्रेलिया) क्रिकेट ग्राउंड के लिए स्कोरबोर्ड प्रणाली पाइथन में लिखी गई है। Z ऑब्जेक्ट पब्लिशिंग एनवायरनमेंट, एक लोकप्रिय वेब एप्लिकेशन सर्वर, जिसे पायथन भाषा में भी लिखा गया है।

Python डेटा टाइप्स 

Python में variables के अन्दर अलग-अलग types की values store की जाती है जैसे कि किस variable के अन्दर numeric value तो किसी दूसरे variable के अन्दर alphabetic value store की जाती है, इसे ही ‘Data Types’ कहा जाता है।
Python में छह प्रकार के Data Types होते है:-

  1. Number
  2. String
  3. List
  4. Tuple
  5. Dictionary
  6. Set

Number Data Types in Python
Number Data Types के तीन प्रकार होते है:-

  1. Integer Number Data Type
  2. Floating-point Number Data Type
  3. Complex Number Data Type

Note:- Type() function का इस्तेमाल data type check करने के लिए किया जाता है।
1.1 Integer Number Data Type:- Integer data type ये Normal Numeric Values होती है। Integer Numbers को अपूर्णांकित हिस्सा नहीं होता है।
Source Code:-
a = 5
b = 12545885
c = 412154986446513513878678541351865465
print(a)
print(b)
print(c)
print(type(a))
print(type(b))
print(type(c))
Output:-
5
12545885
412154986446513513878678541351865465
<class ‘int’>
<class ‘int’>
<class ‘int’>
1.2 Floating-point Number Data Type:- Floating-point numbers को अपूर्णांकित हिस्सा होता है। Python में floating-point number के लिए कोई मर्यादा नहीं होती है।
Source Code:-
a = 5.0
b = 12545885.568444444444445
c = 412154986446513513878678541351865465.4547878541516546845
print(a)
print(b)
print(c)
print(type(a))
print(type(b))
print(type(c))
Output:-
5.0
12545885.568444444
4.121549864465135e+35
<class ‘float’>
<class ‘float’>
<class ‘float’>
1.3 Complex Number Data Type:- Complex data type ‘a + bj’ इस form में होता है इसमे ‘a’ ये real part होता है और ‘b’ ये imaginary part होता है।
Source Code:-
a = 1 + 4j
b = 5 + 4758499j
print(a)
print(b)
print(type(a))
print(type(b))
Output:-
(1+4j)
(5+4758499j)
<class ‘complex’>
<class ‘complex’>
String Data Type in Python:- String ये characters का set होता है। characters; letters, numbers या special symbols हो सकते है। Python में single(‘ ‘) या double(” “) quotes के अन्दर लिखे जाते है। String ये immutable data type है।
Source Code:-
str1 = “Hello World”
str2 = “Hello Friends”
print(str1)
print(str2)
Output:-
Hello World
Hello Friends
ज्यादातर Programming languages में string को index में print किया जाता है उसी प्रकार से Python में भी string को indexes से print किया जाता है। string के सबसे पहले character को index ‘0’ से शुरू होती है और string के सबसे आखिरी index ‘-1’ होती है।
Source Code:-

str = “Hello World”
print(“First letter in string :”, str[0])
print(“Last letter in string :”, str[-1])
print(“Second last letter in string :”, str[-2])
Output:-

First letter in string : H
Last letter in string : d
Second last letter in string : l
List Data Type in Python:- Python के list data type में एक से ज्यादा items होते है। हर एक item को comma(,) से seperate किया जाता है। list के सभी items को square bracket([]) के अन्दर close किये जाता है।
List ये एक compound data type है जिसमे किसी भी data types के items लिए जा सकते है। list ये एक mutable data type है। इन data type के items की values change की जा सकती है।
Source Code:-
list = [1, “Hello”, 5.6, (1, “Hii”)]
for i in list:
    print(i)
Output:-

1
Hello
5.6
(1, ‘Hii’)
Tuple Data Type in Python:- Python के list data type में एक से ज्यादा items होते है। ये list data type के जैसे ही होता है। हर एक item को comma(,) से seperate किया जाता है। Tuple के सभी items को parenthesis(()) के अन्दर close किये जाता है।
Tuple ये एक compound data type है जिसमे किसी भी data types के items लिए जा सकते है। list ये एक immutable data type है। इन data type के items की values change नहीं की जा सकती है।
Source Code:-
tuple = (1, “Hello”, 5.6, (1, “Hii”))
for i in tuple:
    print(i)
tuple[0] = 3  #trying to changing 0th index
print(tuple[0])
Output:-
1
Hello
5.6
(1, ‘Hii’)
Traceback (most recent call last):-
    tuple[0] = 3  #trying to changing 0th index
Type Error:- ‘tuple’ object does not support item assignment
Dictionary Data Type in Python:- Dictionary Data Type में keys और values की pairs होती है। हर key value के pair को comma(,) से और key और value को colon(:) से seperate किया जाता है। Dictionary के सभी keys और values को curly braces({}) में लिखा जाता है। ये एक immutable data type है।
Source Code:-

dict = {1:”H”, 5:”e”, 7:”l”, 8:”l”, 9:”o”}
print(dict[5])
print(dict[9])
Output:-
e
o
Set Data Type in Python:- Set Data Type ये items का unordered collection होता है। set में दिए हुआ हर एक item नया होता है। अगर duplicate item मिल जाता है तो उसे remove किया जाता है। set data type के items को curly braces({}}) के अन्दर लिखा जाता है।
Source Code:-

set1 = {“Ramesh”, “Suresh”, “Kamlesh”}
for i in set1:
    print(i)
    
set2 = {3, 5, 8, 7, 1, 3}
for j in set2:
    print(j)
Output:-

Pankaj
Manish 
Rajesh
1
3
5
7
8

Python संस्करण का इतिहास 

  1. Python 1.0 – January 1994
  2. Python 1.2 – April 10, 1995
  3. Python 1.3 – October 12, 1995
  4. Python 1.4 – October 25, 1996
  5. Python 1.5 – December 31, 1997
  6. Python 1.6 – September 5, 2000
  7. Python 2.0 – October 16, 2000
  8. Python 2.1 – April 15, 2001
  9. Python 2.2 – December 21, 2001
  10. Python 2.3 – July 29, 2003
  11. Python 2.4 – November 30, 2004
  12. Python 2.5 – September 19, 2006
  13. Python 2.6 – October 1, 2008
  14. Python 2.7 – July 4, 2010
  15. Python 3.0 – December 3, 2008
  16. Python 3.1 – June 27, 2009
  17. Python 3.2 – February 20, 2011
  18. Python 3.3 – September 29, 2012
  19. Python 3.4 – March 16, 2014
  20. Python 3.5 – September 13, 2015
  21. Python 3.6 – December 23, 2016
  22. Python 3.7 – June 27, 2018
पायथन पढ़ने या पायथन का उपयोग करने के लिए, हमें लाइसेंस (License) लेने या किसी भी कीमत का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि पाइथन जनरल पब्लिक लाइसेंस (GPL) के तहत उपलब्ध है। जीएनयू जनरल पब्लिक लाइसेंस एक व्यापक रूप से इस्तेमाल किया जाने वाला मुफ्त सॉफ्टवेयर लाइसेंस है, जो सॉफ्टवेयर चलाने, पढ़ने और संशोधित करने की स्वतंत्रता की गारंटी देता है।

Python की विशेषताएं

आज के दौर में कई सारी Programming language उपलब्ध है, जिसके कारण अक्सर हमे उनमे से एक चुनने में काफी दिक्कतें होती है। ऐसे में जरूरत है, उनके Features को Compare करने की. आपको देखना होगा किसकी क्या विशेषता है, तो चलिये Python की कुछ विशेषताओं को जानते है।
Easy Programming Language:- सभी बाकी Programming Language में अगर कोई सीखने और उपयोग करने में आसान है, तो वह पाइथन है। दूसरी भाषाओ के विपरीत पाइथन में Code करना आसान है। थोड़े बहुत प्रयास के साथ Python Syntax सीखे जा सकते है। High Level Programming होने के बावजूद भी Python Code आसान अंग्रेजी भाषा मे होते है जिन्हें समझना (Understand) और सीखना (Learn) आसान है। इस कारण आप इसे Programmer Friendly भी कह सकते है।
Interpreted Language:- Python को छोड़कर दूसरी Programming language को चलाने के लिये हमें इसे संकलित (compile) करने की आवश्यकता होती है। परन्तु Python के मामले में Python Code बिना संकलित किये चलाये जा सकते है। यहां Interpreted का अर्थ है, Source code को Line by line निष्पादित किया गया है।
Expressive Language:- जब Expressive शब्द का उपयोग होता है, तो इसका अर्थ है, Understandable और Readable। पाइथन एक ऐसी प्रोग्रामिंग भाषा है, जिसे पढ़ना और समझना बहुत आसान है। कई ऐसे program है, जो बाकी Programming Language में नही किये जा सकते परन्तु Python में किये जाते है।
Cross- Platform Language:- यदि हम Python Code को किसी एक Operating System (Window, Mac, Android, Linux) के लिए लिखते है, तो आपको इसे किसी दूसरे ऑपरेटिंग सिस्टम में चलाने के लिये कोई बदलाव नही करने होंगे। इसका मतलब है Python language सभी Platform को Support करती है. किसी भी प्रोग्रामिंग भाषा को सीखने से पूर्व आपको देखना होगा क्या वह Portable language है।
Open Source:- पाइथन Open Source है, इसका अर्थ python source code पूरी दुनिया के लिए उपलब्ध है। हम इसे आसानी से Download, Change, Use और Distribute कर सकते है। इसके साथ ही Python एक Free language है, जिसके Tools का उपयोग आप आसानी से कर सकते है।
Embedded:- पाइथन पूरी तरह से Embedded है, अर्थात इसके source code में अन्य Programming language के Code डाले जा सकते है और अन्य भाषाओं के Source Code में Python Code डाला जा सकता है। यह हमें दूसरी भाषाओ की Scripting क्षमताओं को हमारे Program में एकीकृत करने की अनुमति देता है।
Large Standard Library:- जब हम Python Download करते है, तो इसके साथ हमे Code की Large Library भी मुहैया होती है। जिसके कारण आपको हर एक चीज के लिए अपना कोड लिखना नही पड़ता है। यह हमें Rapid Application Development के लिये Module और Functions का स्मृद्ध सेट प्रदान करता है।
Extension:- जरूरत पढ़ने पर हम Python Code को C++ जैसी दूसरी भाषाओं में लिख सकते है। यह पाइथन को एक Extensible Language बनाता है। इस कारण हम Python को अन्य भाषाओं में बड़ा सकते है।
GUI Programming Support:- python के उपयोग से Graphical user interface (GUI) बनाया जा सकता है। GUI, User Interface का रूप है, जो User को Command Line के माध्यम से केवल Text के बजाय Electronic Device के साथ बातचीत करने के लिए Icon या अन्य Visual Indicators का उपयोग करता है।

Python का उपयोग 

पाइथन का उपयोग वेब एप्लीकेशन, गेम बनाने, वेबसाइट बनाने में किया जाता है। इसकी सहायता से हम कंप्यूटर पर किसी भी प्रोग्राम को बना सकते है या लिख सकते है। यह लैंग्वेज General Purposes के काम आती है। अगर आपको कोई एक एप्लीकेशन बनानी है तो आप इसका इस्तेमाल कर सकते है।
  1. Easy to Learn
  2. Easy to Understand
  3. Easy to Read
  4. Portable
  5. Large Number of Libraries
  6. Object-Oriented

Easy to Learn:- Python ये Language C, C++ और Java Language जैसी है। इस Language में ज्यादा keywords न होने की वजह से काफी आसानी से सिखी जा सकती है।
Easy to Understand:- Plain English के जैसे Syntax होने की वजह से काफी अच्छे से समझ आती है।
Easy to Read:- Python का Program ज्यादा पेचीदा न होने से पढ़ने में आसानी प्रदान करता है।
Simple:- Python Language पढ़ने और समझने में बहुत ही आसान है। ये Language पढ़ने में ज्यदातर Plain English जैसी होती है।
Portable:- Python का Program एक Platform(OS) से दुसरे Platform पर Port करके Execute किया जाता है।
Large Number of Libraries:- Python में बहुत सारी Libraries होती है जिससे किसी Specific Code को अलग से नहीं लिखना पड़ता है।
Object-Oriented:- C++ और Java के साथ ये Language भी एक Object-Oriented Language है। Object-Oriented होने के कारण Program को समझने में आसानी प्रदान करता है।

Python कैसे सीखें?

लम्बी कहानी पढ़ने के बाद अब हम इस सवाल पर आये है, पाइथन कैसे सीखें? यह जरूरी भी है आपको इसकी शुरुआत करने से पहले यह जानना होगा कि पाइथन सीखने का सबसे अच्छा तरीका कौन सा है? आज के माहौल में कोई भी Computer language सीखना उतना मुश्किल नही है, जितना पहले हुआ करता था। इंटरनेट के विकसित होने से कई Resources हमारे लिए खुले है। नीचे हमने आपके साथ कुछ Tips और Resource शेयर किये है, जो आपको Python Language सीखने में मदद करेंगे।
Python सीखने के लिए कुछ टिप्स:-
1. आप किसी भी तरह की Computer language सीख रहे है, तो Consistency बहुत जरूरी है। आपको रोज कुछ न कुछ Code करना ही होगा अपनी Programmer वाली एक आदत बनानी होगी. अगर हम इसे सीखने के प्रति प्रतिबद्ध नही होंगे तो यह हमें जल्द ही ऊबाऊ लगेगा।
2. सीखने में जल्दबाजी न दिखाए धीरे-धीरे चीजो को सीखे। महत्वपूर्ण विषय या जो आपको कठिन लगे उसके Notes बनाकर अपने पास सुरक्षित रख ले। लगातार कुछ घंटे करने के बजाये आधे घंटे में एक पांच मिनट का Break ले।
3. अगर मुम्किन हो सके तो, एक Partner ढूंढे यह आपके Coding सीखने को बहुत Interesting बना देगा। दो लोगो के होने से कई Tips और Tricks आपस मे शेयर होते रहती है जिससे सीखने के प्रति लगाव बढ़ता है।
4. सही Resources का पहले ही चुनाव कर ले। अगर आप किसी Website या YouTube Video या किसी Blogs जैसे की Tech Academy Pro के माध्यम से सीखना चाहते है, तो लगातार इनसे ही सीखते रहे। अन्यथा आस-पास किसी Institute से Course करे।
5. “Practice Makes a Man Perfect” यह सुविचार तो आपने सुना ही होगा। जो आप सीख रहे है उसको लगातार Practice करते जाये। किसी भी तरह की Programming language सीखने के लिए सबसे जरूरी है उसका लगातार अभ्यास।
6. एक बार जब आप Basic Data Structure, Object Oriented Programming और Code लिखने में थोड़ी बहुत समझ प्राप्त कर ले तो इसके आधार पर कुछ Project शुरू करे। अपने Python ज्ञान के आधार पर कुछ बनाये। इससे आपको Confidence मिलेगा और आप तेजी से आगे बढ़ पाएंगे।

Python भाषा क्यों सीखनी चाहिए?

1) पाइथन पूरी तरह से फ्री भाषा है, इसे डाउनलोड करने, उपयोग करने और कोड करने के लिए भुगतान नहीं करना पड़ता हैं।
2) पायथन कमांड्स आम इंग्लिश शब्द में होते है, जिससे आप इसे आसानी से सीख सकते है। यदि आपको प्रोग्रामिंग भाषाओं का थोड़ा भी ज्ञान नही है, तब भी आप पायथन कोड को आसानी से सीख सकते है।
3) यह एक Object-Oriented-language है, जिसका फायदा आपको दूसरी programming language सीखने में होता है।
4) इसका इस्तेमाल कई प्रकार की एप्लीकेशन बनाने में किया जाता है।
5) पाइथन का उपयोग Artificial Intelligence और Data Science में भी किया जाता है। हम सब जानते है, AI यानी कृतिम बुद्धिमत्ता तकनीकी दुनिया का भविष्य है इसलिए पायथन आपको भविष्य में बहुत उपयोगी हैं।
6) Python का उपयोग Artificial Intelligence aur Data Science में भी किया जाता है। हम सब जानते है, AI यानी Artificial Intellegence Technology की दुनिया का भविष्य है। इस हिसाब से Python सीखना हमारे लिए फायदे का सौदा है।   
7) अगर आप Python Developer के Career की बात करे तो आज के समय इससे ज्यादा उज्जवल भविष्य किसी भी क्षेत्र में नही है। एक Python Engineer की Salary 50,000-500,000 तक होती है। 

Python डाउनलोड और इंस्टॉल कैसे करें? 

पायथन डाउनलोड करने और इनस्टॉल करने के लिए पाइथन की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं और अपना संस्करण (Version) चुनें। हमने पायथन संस्करण 3.7.0 चुना है।
पायथन डाउनलोड करने और इनस्टॉल करने के लिए पाइथन की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं और अपना संस्करण (Version) चुनें। हमने पायथन संस्करण 3.7.0 चुना है।
डाउनलोड पायथन 3.7.0 बटन पर क्लिक करें एक बार डाउनलोड पूरा होने के बाद, पायथन इनस्टॉल करने के लिए python-3.7.0.exe रन करें। अब “Install Now” पर क्लिक करें।
डाउनलोड पायथन 3.7.0 बटन पर क्लिक करें एक बार डाउनलोड पूरा होने के बाद, पायथन इनस्टॉल करने के लिए python-3.7.0.exe रन करें। अब “Install Now” पर क्लिक करें।
डाउनलोड पायथन 3.7.0 बटन पर क्लिक करें एक बार डाउनलोड पूरा होने के बाद, पायथन इनस्टॉल करने के लिए python-3.7.0.exe रन करें। अब “Install Now” पर क्लिक करें।
डाउनलोड पायथन 3.7.0 बटन पर क्लिक करें एक बार डाउनलोड पूरा होने के बाद, पायथन इनस्टॉल करने के लिए python-3.7.0.exe रन करें। अब “Install Now” पर क्लिक करें।
जब इंस्टालेशन खत्म हो जाये, तो आप एक स्क्रीन देख सकते हैं जो कहता है कि “Setup was successful” अब “Close” पर क्लिक करें।
जब इंस्टालेशन खत्म हो जाये, तो आप एक स्क्रीन देख सकते हैं जो कहता है कि “Setup was successful” अब “Close” पर क्लिक करें।
Python अब आपके कंप्यूटर पर सफलतापूर्वक इनस्टॉल हो चुका है।
Python अब आपके कंप्यूटर पर सफलतापूर्वक इनस्टॉल हो चुका है।
Python  “हैलो, वर्ल्ड!” प्रोग्राम
Source Code:-
print(“Hello, World!”)
Output:-
Hello, World!

Python से लाभ

  1. पायथन एक नौसिखिया डेवलपर के लिए भी सीखना आसान है। इसका कोड पढ़ना आसान है और आप इसे देखकर बहुत सी चीजें कर सकते हैं।
  2. यह कई सिस्टम्स और प्लेटफार्मों का समर्थन करता है। जिसमें UNIX- आधारित सिस्टम, मैक ओएस, एमएस-डॉस, ओएस / 2 और माइक्रोसॉफ्ट विंडोज 98 के विभिन्न संस्करण शामिल हैं।
  3. पायथन एक ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग भाषा हैं।
  4. एक कार्ड के आकार के माइक्रो कंप्यूटर की शुरुआत के साथ, पायथन ने अपनी पहुंच को अभूतपूर्व ऊंचाइयों तक पहुंचाया है। डेवलपर्स अब आसानी से कैमरे, रेडियो और गेम का निर्माण कर सकते हैं। इसलिए, पायथन सीखना आपके लिए कुछ आउट-ऑफ-द-बॉक्स गैजेट बनाने के लिए नए रास्ते खोल सकता है।
  5. पाइथन में कई फ्रेमवर्क हैं जो वेब प्रोग्रामिंग को बहुत लचीला बनाते हैं। Django वेब विकास के लिए सबसे प्रसिद्ध पायथन फ्रेमवर्क है।
  6. पायथन के द्वारा Graphical User Interface (GUI) बनाया जा सकता है।
  7.  GUI, User Interface का रूप है, जो User को Command line के माध्यम से केवल Text के बजाय Electronic Device के साथ बातचीत करने के लिए Icon या अन्य Visual indicators का उपयोग करता है।
  8. पाइथन पूरी तरह से Embeddable है, अर्थात इसके Source code में अन्य Programming language के Code डाले जा सकते है और अन्य भाषाओं के Source Code में Python Code डाला जा सकता है।
  9.  यह हमें दूसरी भाषाओ की Scripting क्षमताओं को हमारे Program में एकीकृत करने की अनुमति देता है।
  10. पाइथन ओपन सोर्स भाषा है, इसका अर्थ हैं कि पायथन का सोर्स कोड पूरी दुनिया के लिए उपलब्ध है।
  11.  हम इसे आसानी से Download, Change, Use और Distribute कर सकते है।
  12.  इसके साथ ही Python एक Free language है, जिसके Tools का उपयोग आप आसानी से कर सकते है।

Python की कमियां
  1. पाइथन बाकी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के मुकाबले स्लो है।
  2. पाइथन मोबाइल विकास के लिए बहुत अच्छी भाषा नहीं है।
  3. पाइथन से एक उच्च-ग्राफिक 3 डी गेम का निर्माण करना असंभव है।
  4. पाइथन मल्टी-प्रोसेसर / मल्टी-कोर के लिए अच्छा नहीं है।

सरल शब्दों में सारांश

  1. पायथन को General-Purpose-Programming भाषा भी कहा जाता है पायथन को नीदरलैंड के पूर्व निवासी Guido van Rossum द्वारा पहली बार 1991 में बनाया गया था।
  2. पायथन PERL के समान एक Interpreted, Object-Oriented-Programming Language है।
  3. पायथन एक Interpreted Language है, जिसका अर्थ है कि पायथन में लिखे गए प्रोग्राम्स को चलाने के लिए पहले से Compiled करने की आवश्यकता नहीं होती है।
  4. पाइथन पूरी तरह से फ्री भाषा है, इसे डाउनलोड करने, उपयोग करने और कोड करने के लिए भुगतान नहीं करना पड़ता हैं।
  5. पायथन का उपयोग विभिन्न प्रकार की एप्लीकेशन बनाने के लिए किया जा सकता है।
  6. यह कई सिस्टम्स और प्लेटफार्मों का समर्थन करता है। जिसमें UNIX- आधारित सिस्टम, मैक ओएस, एमएस-डॉस, ओएस / 2 और माइक्रोसॉफ्ट विंडोज 98 के विभिन्न संस्करण शामिल हैं।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

Leave a Comment