ASP.NET क्या हैं? ASP.NET के बारें में विस्तार से जानिए?

4.5
(208)

ASP.NET in Hindi, What is ASP.NET? Know ASP.NET in Details in Hindi? जानिए ASP.NET के बारे में सबकुछ हिंदी में, ASP.NET क्या है? इसकी विशेषताएं और प्रकार, ASP.NET का उपयोग किस तरह करते है? सबकुछ यहाँ पर हिंदी में।

ASP.NET एक ओपन-सोर्स सर्वर-साइड वेब एप्लीकेशन फ्रेमवर्क है, जिसे वेब डेवलपमेंट के लिए डायनामिक वेब पेज क्रिएट करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। मुख्यतः इसे माइक्रोसॉफ्ट द्वारा डायनामिक वेब साइट्स, वेब एप्लिकेशन और वेब सर्विस को बनाने के लिए विकसित किया गया था।

हिस्ट्री ऑफ़ ASP.NET

ASP.NET एक वेब डेवलपमेंट प्लेटफॉर्म (Platform) है, जो आपको एक प्रोग्रामिंग मॉडल, व्यापक सॉफ्टवेयर इन्फ्रास्ट्रक्चर और विभिन्न सेवाएं प्रदान करता है जो वेब एप्लिकेशन डेवलपमेंट के लिए आवश्यक होता हैं। इसमें C# प्रोग्रामिंग है जो ऑब्जेक्ट-ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग (OOP) का उपयोग करता है।

ASP.NET in Hindi, What is ASP.NET? Know ASP.NET in Details in Hindi
ASP.NET in Hindi, What is ASP.NET? Know ASP.NET in Details in Hindi

इसे पहली बार जनवरी 2002 में .NET फ्रेमवर्क के संस्करण 1.0 के साथ जारी किया गया था और यह माइक्रोसॉफ्ट के एक्टिव सर्वर पेज (ASP) तकनीक का प्रतिस्थापन है।

ASP.NET का निर्माण कॉमन लैग्वेज रनटाइम (CLR) पर किया गया है, यह प्रोग्रामर को कोई भी सहायक .NET भाषा का उपयोग करते हुए ASP.NET कोड लिखने की सुविधा देता है।

ASP.NET का परिचय

ASP.NET एक माइक्रोसॉफ्ट वेब डेवलपमेंट फ्रेमवर्क है जिसका उपयोग आप डायनामिक और बैक-एंड वेब एप्लिकेशन (Back-End Web Application) और वेबसाइट (Website) बनाने के लिए कर सकते हैं।

PHP के विपरीत, यह आपको माइक्रोसॉफ्ट विज़ुअल स्टूडियो (Microsoft Visual Studio) में एक डेवलपमेंट वातावरण प्रदान करता है जहाँ आप कई ऑन-क्लिक टूल (On-Click Tools) और कंपोनेंट्स (Components) के साथ खेल सकते हैं,

वास्तव में आपको ASP.NET के साथ काम करते समय किसी भी चीज़ के बारे में चिंता करने की आवश्यकता नहीं है, जो कि एक सॉफ्टवेयर (Software) है। जिसे माइक्रोसॉफ्ट द्वारा स्वयं बनाया गया है।

हालाँकि, PHP (हाइपर टेक्स्ट प्री-प्रोसेसर) एक ओपन सोर्स वेब डेवलपमेंट लैंग्वेज है जो ASP (एक्टिव सर्वर पेज) के बजाय उपयोग करने में अधिक आसान और सुविधाजनक है, लेकिन ASP जिसे अब ASP.NET कहा जाता है, Microsoft का एक उत्पाद है, इस प्रोग्रामिंग भाषा का उपयोग करने के लिए आपको एक उचित वेब डेवलपमेंट वातावरण सेट करने की आवश्यकता है। डेवलपमेंट टूल्स का एक सेट है।

विज़ुअल स्टूडियो .NET और विज़ुअल वेब डेवलपर जैसे प्रोग्राम वेब डेवलपर्स को विज़ुअल इंटरफ़ेस का उपयोग करके डायनामिक वेबसाइट बनाने की अनुमति देते हैं। बेशक, प्रोग्रामर अपना कोड और स्क्रिप्ट लिख सकते हैं और इसे ASP.NET वेबसाइट में भी शामिल कर सकते हैं।

हालाँकि इसे अक्सर Microsoft के ASP प्रोग्रामिंग तकनीक के Successor के रूप में देखा जाता है, ASP.NET विजुअल Basic.NET, JScript .NET और ओपन-सोर्स Language जैसे पायथन और पर्ल का भी Support करता है।

ASP.NET, .NET फ्रेमवर्क पर बनाया गया है, जो सॉफ्टवेयर प्रोग्रामर्स के लिए एक एप्लीकेशन प्रोग्राम इंटरफेस (एपीआई-API) प्रदान करता है। .NET डेवलपमेंट टूल का उपयोग विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम और वेब दोनों के लिए एप्लिकेशन बनाने के लिए किया जा सकता है।

विजुअल स्टूडियो .NET जैसे Program डेवलपर्स को अपने एप्लिकेशन बनाने के लिए एक विज़ुअल इंटरफ़ेस प्रदान करते हैं, जो वेब आधारित इंटरफेस (Web Base Interface) को डिजाइन करने के लिए .NET को एक उचित विकल्प बनाता है।

ASP.NET वेबसाइट को सही ढंग से कार्य करने के लिए, इसे ASP.NET Applications का Support करने वाले वेब सर्वर पर Publish किया जाना चाहिए। Microsoft की Internet information service (IIS) वेब सर्वर ASP.NET वेबसाइटों के लिए अब तक का सबसे Common platform है।

जबकि लिनक्स-आधारित सिस्टम के लिए कुछ ओपन-सोर्स विकल्प उपलब्ध हैं, ये विकल्प अक्सर ASP.NET Applications के लिए पूर्ण Support से कम प्रदान करते हैं।

ASP.NET क्या हैं?

ASP.NET गतिशील वेब अनुप्रयोगों को विकसित करने के लिए एक रूपरेखा है। यह VB.Net, C #, Jscript.Net आदि भाषाओं का समर्थन करता है। प्रोग्रामिंग तर्क और सामग्री को Microsoft Asp.Net में अलग से विकसित किया जा सकता है।

यह कोर्स ASP.NET के कुछ महत्वपूर्ण पहलुओं को शामिल करता है जैसे पुन: प्रयोज्य कोड, सर्वर पर .net एप्लिकेशन को तैनात करना, वेब एप्लिकेशन परीक्षण, डिबगिंग और इसी तरह।

ASP.Net Microsoft द्वारा प्रदान किया गया एक वेब विकास मंच है। इसका उपयोग वेब-आधारित एप्लिकेशन बनाने के लिए किया जाता है। ASP.Net को पहली बार वर्ष 2002 में जारी किया गया था।

ASP.Net पर तैनात पहला संस्करण 1.0 था। ASP.Net का सबसे हाल का संस्करण संस्करण 4.6 है। ASP.Net को HTTP प्रोटोकॉल के साथ काम करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह सभी वेब अनुप्रयोगों में उपयोग किया जाने वाला मानक प्रोटोकॉल है।

ASP.Net अनुप्रयोगों को विभिन्न .Net भाषाओं में भी लिखा जा सकता है। इनमें C #, VB.Net और J # शामिल हैं। इस अध्याय में, आपको .Net फ्रेमवर्क के कुछ बुनियादी मौलिक दिखाई देंगे। ASP का फुल फॉर्म Active Server Pages है, और .NET नेटवर्क इनेबल्ड टेक्नोलॉजीज है।

ASP.NET एक वेब डेवलपमेंट टेक्नोलॉजी और Microsoft .Net प्लेटफॉर्म का हिस्सा है। वेब एप्लिकेशन मानक विंडोज एप्लिकेशन से पूरी तरह से अलग है। एक वेब अनुप्रयोग एक वेब सर्वर पर तैनात किया जाता है। एक क्लाइंट मशीन पर वेब ब्राउज़र HTTP का उपयोग करके वेब एप्लिकेशन तक पहुंच रहा है। वेब ब्राउज़र से अनुरोध और वेब सर्वर द्वारा प्रतिक्रिया HTTP के माध्यम से की जाती है।

जब कोई भी उपयोगकर्ता ब्राउज़र के एड्रेस बार पर वेबसाइट का पता लिखता है और ओके बटन को हिट करता है तो निम्न चरण किए जाते हैं:-

HTTP के माध्यम से वेब सर्वर को GET अनुरोध भेजा जाता है।

वेब सर्वर GET अनुरोध को संसाधित करता है और वेब ब्राउज़र पर एक प्रतिक्रिया भेजता है।

वेब ब्राउज़र तब प्रतिक्रिया को संसाधित करता है।

यदि उपयोगकर्ता फिर से बटन या किसी घटना से वेब सर्वर पर पेज सबमिट करता है, तो HTTP डेटा को सर्वर पर वापस पोस्ट करता है।

फिर से सर्वर अनुरोध को संसाधित करता है और क्लाइंट (ब्राउज़र) को HTML भेजता है।

वेब ब्राउज़र फिर से प्रतिक्रिया को संसाधित करता है, जो सर्वर से आया है, और ब्राउज़र पर उपयोगकर्ता को वेब पेज प्रदर्शित करता है।

Visual Studio .NET (उदाहरण के लिए 2002/2003 IDEs) के पुराने संस्करण में, डेवलपर्स को सभी वेब अनुप्रयोगों के लिए IIS का उपयोग करना था। बाद के संस्करण में दृश्य स्टूडियो में एक अंतर्निहित वेब सर्वर शामिल होता है जिसे आप विकास के लिए उपयोग कर सकते हैं।

स्थान के आधार पर, विज़ुअल स्टूडियो 2008 में और बाद में आप अपने कंप्यूटर पर फ़ाइल-सिस्टम-आधारित सर्वर, एक IIS सर्वर, या एक FTP सर्वर वेब एप्लिकेशन बना सकते हैं।

ASP.NET का Syntax

<html xmlns="www.w3.org/1999/xhtml">
<head runat="server">
  <title></title>
</head>
<body>
  <form id="form1" runat="server">
  <div>
  <%Response. Write( "HeIIo World") %>
  </div>
  </form>
</body>
</html>

ASP.NET संस्करण

  1. ASP.NET 1.0-16 जनवरी 2002

  2. ASP.NET 1.1-24 अप्रैल 2003
  3. ASP.NET 2.0-7 नवम्बर 2005
  4. ASP.NET 3.0-21 नवम्बर 2006
  5. ASP.NET 3.5-19 नवम्बर 2007
  6. ASP.NET 3.5 (SP1)-11 अगस्त 2008

ASP.NET की विशेषताएं

ASP.NET पूरी तरह से ऑब्जेक्ट-ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग (Object Oriented Programming) मॉडल पर आधारित है, जिसमें इवेंट ड्रिवेन, कंट्रोल-बेस्ड आर्किटेक्चर शामिल है, जो कोड एनकैप्सुलेशन (Code Encapsulation) और कोड पुन: उपयोग (Code Reusing) की सुविधा प्रदान करता है।

ASP.NET हमें सुविधा देता है कि आप किसी भी .NET सपोर्टिंग प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का उपयोग करके सर्वर साइड कोड लिख सकते हैं जो डायनामिक कंटेंट जेनरेट करने का काम करता है। जबकि C# और VB.NET का उपयोग .NET सपोर्टेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के रूप में सबसे ज्यादा किया जाता है।

ASP.NET फ्रेमवर्क का उपयोग करके, हम वेब सर्विसेज (Web Services) भी बना सकते हैं, जो कि ऐसे कोड होते हैं जिन्हें हम क्रॉस-प्लेटफ़ॉर्म (Cross-Platform) और क्रॉस-मशीन (Cross-Machine) तरीके से पुनः उपयोग कर सकते हैं।

ASP.NET एक उच्च-प्रदर्शन वेब एप्लिकेशन डेवलपमेंट फ्रेमवर्क प्रदान करता है। क्योंकि ASP.NET में पेज और कंपोनेंट्स केवल तभी कम्पाइल (Compile) किए जाते हैं, जब यूजर्स (Users) क्लाइंट सॉफ्टवेयर जैसे वेब ब्राउजर (Web Browser) से रिक्वेस्ट करते हैं और क्योंकि ASP.NET पेज कम्पाइल होते हैं, इसलिए उनका परफॉरमेंस किसी भी इंटरप्रेटर (Interpreter) आधारित सर्वर साइड स्क्रिप्टिंग लैंग्वेज द्वारा डायनेमिकली जेनरेट होने वाले वेब पेजों की तुलना में बहुत बेहतर होता है।

ASP.NET क्यों सीखना चाहिए?

ASP.NET Microsoft .NET फ्रेमवर्क का एक हिस्सा है। ASP.NET के साथ, आप कम्पाइल कोड लिख सकते हैं, जो एक्सटेंसिबल (Extensible) हैं और पुन: उपयोग (Reusing) कंपोनेंट्स या ऑब्जेक्ट्स है जो .NET फ्रेमवर्क का ही हिस्सा हैं।

आप इन सभी कोड के अंदर .NET फ्रेमवर्क क्लासेज (Classes) के हाइरार्की (Hierarchy) का उपयोग कर सकते हैं। हम ASP.NET की मदद से कंप्यूटर (Computer) और मोबाइल (Mobile) दोनों के लिए वेब एप्लिकेशन (Web Application) विकसित कर सकते हैं।आप ASP.NET में C#, Visual Basic .NET, JScript, J# भाषा का उपयोग करके कोडिंग (Coding) कर सकते हैं।

ASP.NET का उपयोग करके इंटरेक्टिव, डेटा-संचालित एप्लिकेशन बना सकते हैं जो इंटरनेट पर चल सकते हैं। ASP.NET HTTP प्रोटोकॉल पर काम करता है और केवल HTTP कमांड (Command) को ही फॉलो करता है। यह ब्राउज़र-टू-सर्वर (Browser-to-server) संचार करता है।

जो कोई भी डायनामिक वेबसाइट (Dynamic Website) और वेब सर्विसेज (Web Services) का निर्माण करना सीखना चाहता है, उसे ASP.NET सीखना चाहिए, क्योंकि, इंटरनेट (Internet) के विकास के साथ, डेस्कटॉप एप्लीकेशन (Desktop Applications) की तुलना में मार्किट में वेब एप्लीकेशन (Web Applications) की मांग बढ़ गई है।

इसलिए, यदि आप भी वेब एप्लीकेशन सेक्टर में करियर (Career) बनाना चाहते हैं, तो ASP.NET में करियर उज्ज्वल है, क्योंकि ASP.NET आधारित वेब एप्लिकेशन को वेब डेवलपमेंट (Web Development) सेक्टर में PHP के बाद सबसे अधिक बनाया जाता है।

इसलिए भी क्योंकि यह Microsoft Company द्वारा डेवलप (Develop) और मैनेज (Manage) किया जाता है, इसलिए हमें किसी भी आवश्यकता को पूरा करने के लिए कई माध्यमों से मदद मिलती है। परिणामस्वरूप, ASP.NET का उपयोग करके वेब एप्लिकेशन विकसित करना आसान होता है।

ASP.NET में वेब फॉर्म क्या है?

Microsoft ने वेब एप्लिकेशन डेवलपमेंट के लिए RAD (Rapid Application Development) वातावरण प्रदान करने के लिए ASP.NET वेबफॉर्म्स मॉडल (Web Forms Model) लॉन्च किया था। क्योंकि ASP.NET Web Form Model उस समय के VB प्रोग्रामर्स के लिए बहुत उपयोगी था, और RAD के लिए ASP.NET में जो फीचर्स जोड़े गए थे, वे आज के वेब प्रोग्रामिंग मॉडल के आधार की तरह काम करते हैं। इस वेब फॉर्म प्रोग्रामिंग मॉडल के तहत, तीन महत्वपूर्ण विशेषताओं को मूल रूप से पेज पोस्टबैक (Page Postbacks), व्यू स्टेट (View State) और सर्वर कंट्रोल (Server Control) के रूप में विकसित किया गया था।

एएसपी निम्नलिखित में से किसी को संदर्भित कर सकता है:-

Active server page के लिए Small, एक एएसपी Page एक Dynamic रूप से बनाया गया वेब पेज है जो एक .ASP एक्सटेंशन के साथ समाप्त होता है जो ActiveX स्क्रिप्टिंग, आमतौर पर VBScript या JScript कोड का उपयोग करता है। .Aspx एक्सटेंशन का उपयोग उन वेब पेजों के लिए किया जाता है जो Microsoft के ASP.NET का उपयोग करते हैं। इन पृष्ठों को “वेब फ़ॉर्म” कहा जाता है और इसमें (X) HTML कोड के साथ-साथ ASP.NET कोड भी हो सकते हैं।

ASP, ASP.NET का Explain करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाने वाला एक शब्द है, जो Microsoft द्वारा बनाया गया एक Open Source Web Applications Framework है। यह प्रोग्रामर को Dynamic वेबसाइटों और Web Services को विकसित करने की अनुमति देता है।

Application Service Provider के लिए Small, ASP एक Third-party provider है जो आपके व्यवसाय डेटा और ग्राहक डेटा को संभालता है और Distribute करता है।

Authorized service provider के लिए Small, एएसपी एक ऐसा Place है जो कंप्यूटर निर्माता द्वारा आपके कंप्यूटर की Service करने वाले Place के रूप में Authorize होता है।

AppleTalk Session Protocol के लिए Small, ASP AppleTalk प्रोटोकॉल का एक भाग है जो AppleTalk पर भेजे गए आदेशों से reaction प्राप्त करता है।

Answer set programming, जिसे एएसपी के रूप में भी जाना जाता है, एक Declarative programming model है जिसका उपयोग एनपी-हार्ड कंप्यूटिंग समस्याओं को हल करने के लिए किया जाता है। यह बेहद कठिन समस्याओं को सरल, स्थिर समस्या मॉडल में कम कर देता है, और उत्तर सेट सॉल्वर के रूप में ज्ञात विशेष Programs का उपयोग करके उन्हें हल करने का प्रयास करता है। उत्तर सेट प्रोग्रामिंग भाषा का एक अच्छा उदाहरण AnsProlog है, जो कि Prolog का एक विशेष Version है जो बेहद कठिन समस्याओं को हल करते समय Infinite loops से बचा जाता है।

 .NET Framework क्या है?

.NET Framework एक सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट फ्रेमवर्क है जिसे माइक्रोसॉफ्ट ने 2002 में विकसित किया था। यह केवल विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम में ही run होता है। इसको डॉट नेट भी कहा जाता है।

एक सॉफ्टवेयर संरचना है जो माइक्रोसॉफ्ट विण्डोज़ (Microsoft Windows) ऑपरेटिंग सिस्टम पर चल रहे कंप्यूटर पर स्थापित किये जा सकते हैं। इसमें सामान्य प्रोग्रामिंग समस्याओं के निष्पादन के लिए कोडित समाधान का एक बड़ा पुस्तकालय भी शामिल है और एक आभासी मशीनहै जो विशेष रूप से ढांचे के लिए लिखे गए प्रोग्राम के क्रियान्वयन का प्रबंधन करती है। .NET फ्रेमवर्क (.NET Framework) माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) की एक पेशकश है और विण्डोज़ (Windows) प्लेटफॉर्म के लिए बनाये गए अधिकांश नए अनुप्रयोगों द्वारा इस्तेमाल करने के लिए बनाया गया है।

फ्रेमवर्क की बेस कक्षा लाइब्रेरी सुविधाओं की एक बड़ी सीमा प्रदान करता है जिसमें उपयोगकर्ता इंटरफ़ेस, डेटा का उपयोग, डेटाबेस कनेक्टिविटी, क्रिप्टोग्राफी, वेब अनुप्रयोग विकास, आंकिक एल्गोरिथ्म और नेटवर्क संचार शामिल हैं। वर्ग पुस्तकालय उन प्रोग्रामर द्वारा प्रयोग किया जाता है, जो आवेदन उत्पन्न करने के लिए इसे अपने स्वयं के कोड के साथ सम्मिलित करते हैं।

.NET फ्रेमवर्क (.NET Framework) के लिए प्रोग्राम लिखने के लिए एक सॉफ्टवेयर पर्यावरण को कार्यशील किया जाता है जो प्रोग्राम चलाने के लिए आवश्यकताओं का प्रबंधन करता है। .NET फ्रेमवर्क (.NET Framework) का भी हिस्सा, इस क्रम पर्यावरण को साझा भाषा क्रम (सी एल आर (CLR)) के रूप में जाना जाता है। सी एल आर (CLR) एक आवेदन आभासी मशीन प्रदान करता है ताकि प्रोग्रामर को कार्यक्रम क्रियान्वित करने के लिए विशिष्ट सी पी यू (CPU) की क्षमताओं की जरूरत नहीं पड़े. ऐसी सुरक्षा के लिए सी एल आर (CLR) भी अन्य महत्त्वपूर्ण सेवाएं प्रदान करता है, जैसे -स्मृति प्रबंधन और अपवाद हैंडलिंग. श्रेणी के पुस्तकालय और सी एल आर (CLR) साथ-साथ NET Framework का गठन करते हैं।

.NET फ्रेमवर्क (.NET Framework) के संस्करण-3 में विण्डोज़ सर्वर (Windows Server)2008, विण्डोज़ विस्ता (Windows Vista) और विण्डोज़-7 (Windows-7) शामिल हैं। फ्रेमवर्क का वर्तमान स्थिर संस्करण जो 3.5 है, उसे विण्डोज़ एक्स पी (Windows XP) और विण्डोज़ सर्वर (Windows Server) 2003 ऑपरेटिंग सिस्टम के परिवार पर भी स्थापित किया जा सकता है। फ्रेमवर्क के संस्करण 4 को 20 मई 2009 को एक सार्वजनिक बीटा के रूप में जारी किया गया था।

.NET फ्रेमवर्क (.NET Framework) परिवार में मोबाइल या एम्बेडेड उपकरण के इस्तेमाल के लिए दो संस्करण भी शामिल है। फ्रेमवर्क का एक छोटा संस्करण,.NET कम्पैक्ट फ्रेमवर्क, विण्डोज़ सीई (Windows CE) प्लेटफार्म पर उपलब्ध है और इसमें स्मार्टफोन के रूप में विण्डोज़ (Windows) मोबाइल उपकरण शामिल हैं। इसके अतिरिक्त, .NET सूक्ष्म फ्रेमवर्क गंभीर रूप से सीमित संसाधन उपकरणों पर लक्षित है।

Components of  ASP.NET Framework

. Net Framework के निम्नलिखित Components होते है:-

  1. CLR(Common Language run-time)

  2. CTS(Common Type System)
  3. FCL(. Net Framework Class Library)
  4. .Net Languages

CLR (Common Language Run-time):- यह एक virtual machine की तरह कार्य करता है,और सारी लैंग्वेज को एक्सेक्यूटे करता है। CLR source code को byte code में translate कर देता है,जिसे हम CIL(Common Intermediate Language) या MSIL(Microsoft Intermediate Language) कहते है। तथा इसके बाद run-time में CLR,JIT compiler के द्वारा इस CIL कोड या MSIL कोड को native code में बदल देता है। 

CTS (Common Type System):- CTS ऐसे टाइप के समूह को describe करता  है, जिसका की सभी डॉट नेट लैंग्वेज में सामान रूप से प्रयोग किया जाता है। उदाहरण के लिए C# में एक क्लास लाइब्रेरी का प्रयोग किया जाता है,और इस क्लास लाइब्रेरी का प्रयोग VB.Net में भी किया जाता है।

क्योकि यह क्लास लाइब्रेरी CTS के द्वारा डिफाइन है। यह टाइप वैल्यू टाइप तथा रिफरेन्स टाइप हो सकते है,वैल्यू टाइप को वैल्यू के द्वारा पास किये जाते है। जो कि stack में स्टोर रहते है। रिफरेन्स टाइप को रिफरेन्स के द्वारा पास किया जाता है,जो कि heap में स्टोर होता है।

FCS (Framework Class Library):- FCL माइक्रोसॉफ्ट की स्टैण्डर्ड लाइब्रेरी है,तथा यह reusable,class,interfaces तथा वैल्यू टाइप की लाइब्रेरी है। इसका प्रयोग web-based,Windows GUI application तथा ASP.Net application,console based application को विकसित करने के लिए किया

जाता है।

Net language:- . Net Framework में Visual Basic(VB) . Net,Visual C#,ASP. Net,Jscript .Net,ADO.Net तथा अन्य . Net Language है।

ASP.NET के उपयोगिता

ASP.NET एक माइक्रोसॉफ्ट वेब डेवलपमेंट फ्रेमवर्क है जिसका उपयोग आप डायनामिक और बैक-एंड वेब एप्लिकेशन (Back-End Web Application) और वेबसाइट (Website) बनाने के लिए कर सकते हैं।

ASP.NET और ASP में अन्तर

ASP.NET और ASP में निम्नलिखित प्रमुख अंतर हैं:-
  1. ASP और ASP.NET दोनों ही माइक्रोसॉफ्ट के फ्रेमवर्क हैं. ASP, ASP.NET का पुराना वर्जन है।

  2. ASP केवल vbscript को उपयोग में लाती है लेकिन ASP.NET C#, VB.NET और भी अन्य लैंग्वेज का प्रयोग करती है।
  3. ASP.NET object-oriented code को अनुमति देती है अपने फ्रेमवर्क में कार्य के लिए जबकि ASP में object-oriented code का प्रयोग नहीं हो सकता है।
  4. ASP का एक्सटेंशन .asp है जबकि ASP.NET का एक्सटेंशन .aspx है।
  5. ASP Markup Language नहीं है जबकि ASP.NET एक Markup Language है।
  6. ASP, HTML को उपयोग करती है जबकि ASP.NET xml / html / xHTML आदि का भी प्रयोग करती है।
  7. ASP को केवल माइक्रोसॉफ्ट प्लेटफार्म भी चलाया जा सकता है लेकिन ASP.NET को अन्य प्लेटफार्म भी चलाया जा सकता है।
  8. ASP और ASP.NET दोनों डायनामिक वेबसाइट बनाने के लिए प्रयोग की जाती हैं।
  9. ASP.NET का निर्माण कॉमन लैग्वेज रनटाइम (CLR) पर हुआ है जिससे प्रोग्रामर किसी भी .NET भाषा का प्रयोग कर ASP.NET कोड लिख सकता है लेकिन ये सुविधा ASP में नहीं है।
  10. ASP और ASP.NET दोनों के कोड ब्राउज़र पे हिडन होते हैं. इसलिए लोग इसे सुरक्षित माना जाता है।
  11. दोनों में कंटेंट को समय समय पे बदला जा सकता है आवश्यकता अनुसार।
  12. इनमे डाटा को कभी भी अपडेट किया जा सकता है।

Asp.net के लाभ

Microsoft Asp.Net फ्रेमवर्क एंटरप्राइज़ स्तर वेब अनुप्रयोगों के निर्माण के लिए व्यापक रूप से उपयोग किया जाने वाला विकास ढांचा है, जिसे आज के प्रोग्रामर उपयोग करना चाहते हैं। Asp.Net फ्रेमवर्क अत्यधिक लोकप्रिय एक है और .net डेवलपर्स के लिए Visual Studio का उपयोग करके Asp.net अनुप्रयोगों को बनाने के लिए अपेक्षाकृत आसान है। यह स्क्रिप्ट भाषाओं तक सीमित नहीं है, यह आपको .NET भाषाओं जैसे C #, J #, VB, आदि का उपयोग करने की अनुमति देता है।

वर्तमान में, व्यक्तिगत इंजीनियरों और सॉफ्टवेयर विकास कंपनियों की एक बड़ी संख्या है जो ASP.NET को अपनी पसंदीदा वेब विकास तकनीक के रूप में चुनते हैं। Asp.Net का उपयोग करने के लिए बहुत सारे लाभ हैं। यहां ASP.NET का उपयोग करने के कुछ फायदे दिए गए हैं:-

Asp.Net शुद्ध रूप से सर्वर-साइड तकनीक है, इसलिए वेब ब्राउज़र में प्रदर्शित होने से पहले कोड को विंडोज़ सर्वर पर संसाधित किया जाता है। इसलिए, ASP.net एप्लिकेशन व्याख्या की गई स्क्रिप्ट की तुलना में अधिक तेज़ी से निष्पादित होते हैं।

एएसपी.नेट फीचर्स जैसे कि शुरुआती बाइंडिंग, जेआईटी संकलन, कैशिंग सेवाओं और मूल अनुकूलन उच्च प्रदर्शन प्राप्त करने के लिए समर्थन करता है। .NET के साथ आप JIT तक सीमित नहीं हैं, लेकिन यदि आप स्टार्टअप विलंब को समाप्त करना चाहते हैं, तो विकल्प AOT है।

Asp.Net फ्रेमवर्क स्वतंत्र भाषा है, इसका मतलब है कि आप किसी भी प्रोग्रामिंग भाषा (C #, J #, VB, आदि) का चयन कर सकते हैं जो आपके आवेदन के लिए सबसे उपयुक्त है।

सभी .Net अनुप्रयोगों में सामान्य भाषा विनिर्देश डेटा प्रकार समान होते हैं, इसलिए कॉलिंग करते समय कोई भी प्रकार का रूपांतरण आवश्यक नहीं होता है। Visual Basic से C ++, C #, या इसके विपरीत।

ASP.NET XML, CSS और अन्य नए और साथ ही स्थापित वेब मानकों के लिए पूर्ण समर्थन प्रदान करता है।

दृश्य स्थिति का परिचय पोस्टबैक घटनाओं के बीच नियंत्रण की स्थिति को स्वचालित रूप से बनाए रखने में मदद करता है।

अंतर्निहित कॉन्फ़िगरेशन जानकारी के साथ, Asp.Net परिनियोजित करना आसान है। घटकों को पंजीकृत करने की कोई आवश्यकता नहीं है क्योंकि कॉन्फ़िगरेशन जानकारी अंतर्निहित है।

अंत में, Asp.Net बड़े अनुप्रयोगों को विकसित करने के लिए आवश्यक कोड की रेखा को कम कर देता है।

ASP.NET के नुकसान

ASP.NET वेब रूपों को क्लासिक ASP पर कई फायदे मिले हैं, लेकिन इसके बहुत सारे नुकसान हैं:-

चिंता (एसओसी) के पृथक्करण की कमी के साथ अपरिभाषित अनुप्रयोग वास्तुकला:-जब हम ASP.NET वेब प्रपत्रों का उपयोग कर एक परियोजना के विकास के बारे में सोचते हैं, तो कोई पूर्वनिर्धारित वास्तु दृष्टिकोण नहीं है। चिंता का विषय (SoC) परिभाषित नहीं है, क्योंकि डेवलपर्स अपनी खुद की वास्तुकला का चयन कर सकते हैं।

कई डेवलपर्स दृष्टिकोण के पीछे कोड चुनते हैं तो यह जटिल विकास जीवन चक्र में मुद्दों को उठाता है, क्योंकि यह यूआई के साथ कसकर जुड़ा हुआ है और कोड अन्य मुद्दों के साथ अस्पष्ट हो जाता है।

Complex pages with performance issues:- ViewState, Postback और Control के माध्यम से राज्य की क्लासिक क्लासिक ASP के लिए महान समाधान थे, लेकिन बाद में वे समस्याओं से बाहर हो गए। ViewState पृष्ठ में ही संग्रहीत है, इसलिए पृष्ठ का आकार बहुत बड़ा हो जाता है और यह समग्र प्रदर्शन को कम कर देता है।

डेवलपर्स रनटाइम पर नियंत्रण पदानुक्रम के लिए संघर्ष करते हैं और घटनाओं की संख्या आवेदन को बहुत जटिल बनाते हैं, क्योंकि डेवलपर्स को सही जगह पर कोड को लागू करने के लिए संघर्ष करना पड़ता है।

Lack of abstraction with minimal control over HTML:- डेवलपर्स को पसंदीदा एचटीएमएल को प्राप्त करने के लिए पारंपरिक पोस्टबैक तंत्र का उपयोग करना पड़ता है, क्योंकि वेब रूपों में एचटीटीपी और एचटीएमएल वेब हैं जो अमूर्तता का एक स्थान है।

डेवलपर्स को JQuery और जावास्क्रिप्ट के साथ एकीकरण जैसी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है, क्योंकि वेब फॉर्म के साथ HTML आउटपुट अक्सर अस्पष्ट होता है।

Limited support for testing and SEO:- कोड के पीछे और कसकर युग्मित आर्किटेक्चर के साथ कई इवेंट हैंडलर यूनिट परीक्षण को सबसे असंभव बनाते हैं।

यहां तक ​​कि एकीकरण परीक्षण वेब रूपों के साथ कठिन और जटिल कार्य बन जाता है। ASP स्ट्रिंग पृष्ठों को क्वेरी स्ट्रिंग्स के साथ ठीक करें, URL द्वारा इंगित उपयोगकर्ता और खोज इंजन अनुकूलन के लिए बहुत अनुकूल नहीं हैं।

Lack of reusable and minimal parallel development:- तर्क के पीछे कोड कोड पुन: प्रयोज्यता को बहुत मुश्किल बना देता है, क्योंकि बहुत सारे संघर्ष होते हैं यदि डेवलपर्स एक से अधिक यूआई के लिए तर्क के पीछे एक ही कोड का उपयोग करते हैं और समानांतर विकास भी विशेष खंड के लिए संभव नहीं है, क्योंकि अनुप्रयोगों को कसकर युग्मित किया जाता है।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 4.5 / 5. Vote count: 208

No votes so far! Be the first to rate this post.

Leave a Comment