UPI क्या है? UPI ID कैसे बनायें? इसके फायदें और नुकसान जानिए सबकुछ

4.7
(72)

आपने UPI का नाम बहुत बार सुने होंगे। इंडिया में नोटबंदी के बाद आप सबको यह शब्द UPI बार–बार सुनने को मिले होंगे। आज के समय मे बहुत सारे लोग डिजिटल पेमेन्ट करते है।

परंतु अधिकतर लोगों को अभी तक UPI क्या है? ओर UPI(Unified Payments Interface) पेमेन्ट कैसे करते है? इसके बारें में लोगो को आज भी ज्यादा जानकारी नहीं हैं। आज के इस आर्टिकल में आपको इसी के बारें में विस्तार से बताने वाले है।

अभी के समय में अधिकांश लोग पैसे के लेन-देन के लिए नोटों की जगह UPI का उपयोग करते हैं, क्या आप जानते हैं कि UPI क्या है? और ये UPI कैसे काम करते हैं? इसके बारे में।

यदि नहीं तो आप बिल्कुल सही जगह पर आये हैं क्योंकि आज के इस आर्टिकल में आपको UPI के बारे में विस्तार में बताएंगे।

Unified Payments Interface
Unified Payments Interface – Know in hindi

साधारण भाषा में कहा जाये तो मोबाइल का उपयोग करके एक बैंक से दूसरे बैंक में पैसे का लेन-देन करने के लिए ही UPI का प्रयोग किया जाता है।

UPI आने के बाद लोग पैसे का ट्रांजैक्शन, कहीं पर भी आसानी से कर सकते हैं। तो यदि आप UPI के विषय में सभी जरूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

UPI क्या हैं?

UPI का पूरा नाम है यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफ़ेस (Unified Payments Interface) यह एक ऐसा तरीक़ा है जिसकी मदद से आप कही पर भी किसी वक़्त अपने बैंक अकाउंट से पैसे चाहे आप ट्रांफर कर सकते है।

आपने दोस्तों के अकाउंट में या रिश्तेदारों के अकाउंट में, और अगर आपको किसी ओर को भी पेमेंट करना है तो भी आप आसानी से UPI की मदद से पैसे ट्रांफर कर सकते है।

किसी भी तरह का Payment हो आप इसके मदद से कर सकते हैं जैसे कि अगर आप ने Online कुछ सामान ख़रीदा हैं तो आप UPI से Payments कर सकते हैं या फिर अपने मार्केट जा कर कुछ खरीदे है तो भी आप UPI के माध्यम से कर सकते हैं।

Unified Payments Interface Logo
Unified Payments Interface Logo

टैक्सी का पैसा हो, सिनेमा टिकट के पैसे हो, एयरलाइन टिकट के पैसे हो, मोबाइल रिचार्ज और D.T.H रिचार्ज ये सभी तरह के पेमेंट आप UPI के जरिये से कर सकते हैं।

यह बिलकुल तेज़ी से और तुरंत आपके सामने ही आपके बैंक अकाउंट से सामने वाले के बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांफर हो जाते हैं।

UPI को शुरू करने की शुरुआत N.P.C.I की तरफ़ से हुए हैं। N.P.C.I का पूरा नाम है नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ़ इंडिया (National Payments Corporation of India) ये वो संस्था है जो की फिलहाल मैनेज (manage) करते हैं। India में सभी banks के A.T.M को ओर उनके बीच हो रहे इंटरबैंक ट्रांसक्शन (Inter Bank Transactions ) को।

जैसे की मान लीजिये आप के पास अगर बड़ौदा बैंक का A.T.M कार्ड है तो आप I.C.I.C.I बैंक के A.T.M में जाकर आपने पैसे निकाल सकते हैं।

इन बैंक्स के बीच जो कुछ हो रहे सभी ट्रांसक्शन का ध्यान N.P.C.I रखते है। ठीक उसी तरह UPI की मदद से भी आप अपने एक बैंक अकाउंट से सामने वाले के अलग Bank के अकाउंट में Money Transfer कर सकते हैं।

UPI की विशेषताएं

  • UPI आपको हर दिन में कभी भी, कहीं भी, और किसी को भी Money Transfer करने की अनुमति देते हैं।
  • आपको किसी भी तरह के Payment को करने के लिए आपना सभी Details देने की ज़रूरत नहीं होते हैं।
  • इससे काफी समय भी बच जाता हैं और Money Transfer भी बहुत जल्दी से हो जाता हैं।
  • UPI में Transaction लिमिट 1 लाख प्रति माह हैं, जो अन्य Mobile Wallet के मुकाबले बहुत ही ज़्यादा हैं।
  • Mobile Wallet जैसे आपको Wallet में पैसे रखने की जरुरत नहीं हैं।
  • साल के 365 दिन 24×7 घंटों में तुरंत Money Transfer की सुविधा प्रदान किये जाते हैं।
  • सभी Banks के लिए केवल एक ही Applications की जरुरत पड़ती हैं।
  • वर्चुअल एड्रेस, जिससे सुरक्षा और आसानी हो जाता हैं, बार-बार Account Holder की जानकारी टाईप करने से मुक्ति मिल जाती हैं।
  • विभिन्न प्रकार के भुगतान की सुविधा मिलते हैं।
  • पैसा मंगवाने के लिए Request भेजने की सुविधा प्रदान किये जाते हैं।
  • शिकायत करने की सुविधा UPI एप्प भी मौज़ूद होते हैं।
  • सरकार तथा सरकारी Under Takings द्वारा विकसित Payment प्रणाली हैं।

UPI कैसे काम करते है?

जब आप एक Bank से दूसरे Bank में Money Transfer करते हैं तब आपको दूसरे Bank का Account Number, I.F.S.C Code, Branch Name के साथ और भी कई जानकारी दर्ज करने होते हैं।

परंतु जब UPI Service के जरिये आप केवल UPI ID लिखकर ही किसी से पैसे प्राप्त किये या फिर भेजे जा सकते हैं। UPI का उपयोग करते वक़्त आप सभी को एक वर्चुअल पेमेंट एड्रेस (Virtual Payment Address) मिलता हैं। जिसके जरिये ही आप पैसों का लेन-देन कर पाते हैं।

UPI Service का लाभ उठाने के लिए आपको UPI एप्प का उपयोग करना होता है, जैसे कि Paytm, Google Pay, PhonePe, BHIM App या फिर कोई और अन्य UPI एप्प भी हो सकता हैं।

UPI, I.M.P.S यानी इमीडिएट पेमेंट सर्विस सिस्टम (Immediate Payment Service System) के जरिये काम करता हैं। जिस कारण पैसे एक account से और एक account में तुरंत ही मनी ट्रांसफर हो जाता हैं।

UPI को आप UPI एप्प के जरिये UPI I.D बनाने के बाद ही आप उसका इस्तेमाल कर सकते हैं, और जब आप इससे कोई मनी ट्रांसफर करते हैं तो वह एक Bank से दूसरे Bank में तुरंत ही ट्रांसफर हो जाता है।

इस UPI Service की वजह से यह साल के 365 दिन किसी भी वक़्त काम करता रहता है, तो आप जब चाहे इसका प्रयोग करके पैसे भेज या फिर प्राप्त कर सकते हैं। UPI को रिजर्व बैंक (reserve Bank) द्वारा नियंत्रित किया जाता हैं। जिस कारण मनी ट्रांसफर सुरक्षित तरीके से होते रहते है।

UPI पर Cashback

UPI के जरिये आप घर बैठे भी पैसे कमा सकते है। अगर आप ऑनलाइन मनी ट्रांसफर एप्प का इस्तेमाल करते है तो ऑनलाइन बिल पेमेंट करने की वजह से आपको CashBack प्राप्त होते हैं।

यहां पर पहले से ही CashBack ऑफर आप सब के लिए प्रदान किये गये हैं।

बाज़ार में ऐसा ही कुछ ख़ास एप्लीकेशन मौज़ूद है जैसे की : Paytm, Google Pay, PhonePe, BHIM App या फिर कोई और अन्य UPI एप्प भी हो सकता हैं।

इन सब एप्प की मदद से आप ऑनलाइन बिल पेमेंट करके CashBack का लाभ उठा सकते हैं।

Virtual Payment Address क्या हैं?

वर्चुअल पेमेंट एड्रेस एक पता है जो कि उन उपभोक्‍ताओं को दिया जाता है जो कि UPI पेमेंट सिस्‍टम का इस्‍तेमाल करते हैं।

इसमें पैसे ट्रांसफर करने के लिए आपको बैंक अकांउट नंबर, I.F.S.C आदि जानकारी की जरुरत नहीं होती है क्‍योंकि वर्चुअल पेमेंट एड्रेस बैंक अकाउंट डिटेल को बदल देता है।

UPI के फ़ायदे

अब आपको UPI के लाभ क्या-क्या होते है उनके बारें में बताने जा रहें हैं :-

  • UPI के Service साल के 365 दिन काम करते रहतें हैं।
  • UPI के जरियें आप तुरंत के तुरंत किसी को भी पैसें भेज या फिर किसी से पैसें प्राप्त कर सकते हैं।
  • UPI I.M.P.S और रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया द्वारा नियंत्रित किया जाता हैं, इस कारण से ही UPI के जरियें पैसें का लेन-देन करना बहुत ही सुरक्षित है।
  • UPI ID लेने के बाद आपको एक वर्चुअल पेमेंट एड्रेस मिलते हैं, जहाँ पर आप पैसें को प्राप्त कर सकते हैं या फिर इनके जरियें किसी को पैसें को भेज भी सकते है।
  • UPI से किसी को मनी ट्रांसफर के लिए हमें अकाउंट नंबर या फिर IFSC कोड नहीं देना पड़ता बल्कि हम केवल UPI ID के द्वारा ही किसी को मनी ट्रांसफर कर सकते है।
  • UPI का उपयोग करना बहुत ही आसान और तेज़ हैं। इंडिया के सभी बैंक में UPI ID को Support करते हैं।
  • UPI के जरियें आप किसी भी दुकान या फिर Online खरीदीं करते वक़्त पैसें transfer कर सकते है।

UPI ID कैसे बनायें?

यदि आप UPI ID कैसे बनायें इस बारे में जानना चाहते है तो UPI ID बनाने के लिए आपको इन चरणों का पालन करना होगा:

Steps 01 :- सबसे पहले तो आपको BHIM App या अन्य किसी Digital Payment App को Download करना पड़ेगा।

Steps 02 :- उसके बाद एप्प में आपको UPI का Options दिखेंगे, उस पर आपको Click करना होगा।

Steps 03 :- अब आपको लिंक विथ यौर बैंक अकाउंट का Options मिलेंगे।

Steps 04 :- फिर आपको अपनी Bank Select करने होंगे, और उसके बाद आपको Registered Mobile Number डालना होंगे, जो बैंक से लिंक हैं।

Steps 05 :- उसके बाद आपके सामने वेरीफाई यौर मोबाइल नंबर का Options आयेंगे। फिर यहाँ पर उस Sim को Select करना होगा, जिससे आपका Bank Account link है।

Steps 06 :- अब आपके registered mobile number पर SMS आयेंगे, वो Automatic UPI को Send हो जाएगा और आपका नंबर वेरीफाई हो जाएगा।

Steps 07 :- Number Verify होते ही आपकी UPI ID (VPA) Create यानि बन जायेंगे।

Steps 08 :- फिर आपको Bank Details डालने होंगे और PIN Generate करना होगा।

इन 08 चरणों का पालन करने के बाद आपका UPI ID बन जायेंगे।

UPI के नुक़सान

अब आपको UPI के हानियाँ क्या-क्या होते है उनके बारें में बताने जा रहें हैं :-

  • UPI का उपयोग सिर्फ वही व्यक्ति कर सकते है जिनके पास UPI वर्चुअल एड्रेस है। इसके बिना आप UPI Transaction नहीं कर सकते है।
  • UPI से Payment करते समय आपको सावधान रहने की जरुरत है। क्यूंकि बहुत बार धोखा धड़ी होने की सम्भावना बहुत रहती है।
  • वर्चुअल एड्रेस से Payment सभी व्यक्ति नहीं कर सकते। इसका उपयोग करने के लिए थोड़ा बहुत Technical knowledge होना चाहिए।
  • UPI से Payment करते समय बहुत बार इंटरनेट सर्वर स्लो हो जाते हैं, जिसकी वजह से आपका Financial Transactions बीच में ही रुक जाता है। और आपका जरुरी Payment में काफी देरी हो जाते हैं।
  • UPI से Payment के लिए आपका Mobile Number आपके पास Bank Account से Link और Verify होना चाहिए।

UPI कितना सुरक्षित है?

Digital Payment का यह इंटरफेस 2 तरह से ऑथेन्टिफिकेशन (Authentication) करता है। इसके बाद ही सिंगल Click से आप किसी को भी Payment कर सकते हैं। यहां वन टाइम पासवर्ड (One Time Password) की जगह पिन (Pin) का इस्तेमाल किया जाता है।

इस पिन का आपको ध्यान रखना चाहिए। अगर गलती से भी आपका ये पिन नंबर किसी ओर व्यक्ति के पास गलती से चला जाता है तो आपके बैंक अकाउंट में जितना भी पैसें होंगे।

वो सारे के सारे पैसे उस व्यक्ति बैंक अकाउंट में ऑनलाइन मनी ट्रांफर के जरियें चलें जायेंगे जितनी भी आपकी जमा पूंजी या मेहनती होंगी उस अकाउंट में से गायब हो जायेंगे और ये सबकुछ आपके आँखों के सामने होगा फिर भी आप उस व्यक्ति को रोक नहीं पायेंगे।

इसलिए ध्यान पूर्वक आपने UPI पिन का इस्तेमाल करें और किसी को भी आपको अपना पिन नंबर बताने की जरुरत नहीं हैं।

इस पिन को हमेशा गोपनीय रखें यह पिन आपके पासवर्ड के जैसा होता है अगर किसी ने हैक कर लिया फिर आप अच्छे से समझ सकते हो क्या हो सकता हैं आपके साथ में इसलिए सावधान रहिये और सुरक्षित रहिये।

जरुरी बातें

Digital India अभियान के आने के बाद हमारे देश में दुनिया की सबसे सस्ती इंटरनेट सेवा शुरू हो गये हैं और सभी कार्य Online किये जाने लगे है।

Online Payment के लिए UPI एक बहुत ही अच्छा माध्यम है, इसकी सहायता से आप कभी भी कितने भी पैसों का किसी भी प्रकार का ट्रांसक्शन आसानी से अपने मोबाइल के द्वारा कर सकते है।

ऊपर दिए गए जानकारी में किसी प्रकार का समस्या आता है तो आप हमें comment box की मदद से Comment कर बताये और साथ ही इस आर्टिकल को अपने सभी साथियों तक अवश्य पहुचाये ताकि उन्हें भी UPI के बारे में जानकारी मिल सके धन्यवाद।।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 4.7 / 5. Vote count: 72

No votes so far! Be the first to rate this post.